Breaking News
Home / उत्तर-प्रदेश / अयोध्या के हर कोने में पुलिस का पहरा, बाबरी विध्वंस की बरसी पर सतर्क है प्रशासन
ayodhya 1

अयोध्या के हर कोने में पुलिस का पहरा, बाबरी विध्वंस की बरसी पर सतर्क है प्रशासन

ayodhya 1अयोध्या। विवादित ढांचा ढहाए जाने की बरसी 6 दिसम्बर को लेकर रामनगरी को अभेद्य सुरक्षा घेरे में कैद कर दिया गया है जबकि प्रशासन द्वारा दोनों समुदायों के स्थानों पर नजर रखी जा रही है. वही जिले की सभी सीमाओं पर अयोध्या आने वाले रास्तों पर बैरियर लगा दिया गया है. अयोध्या जिले से सटी सुल्तानपुर सीमा, अंबेडकर नगर सीमा, बस्ती सीमा व गोंडा सीमा पर बैरियर लगाकर पूछताछ व सघन चेकिंग के बाद ही 5 दिसम्बर की रात से वाहनों को अयोध्या आने के लिए छोड़ा जा रहा है. वही अयोध्या के रौनाही टोल प्लाजा पर सुरक्षा बल लगाये गए हैं जो सघन चेकिंग की बाद ही वाहन छोड़ रहे है.

कई हिंदू संगठनों द्वारा किए गए आयोजनों के ऐलान को लेकर प्रशासन ने सख्ती बढ़ाते हुए मजिस्ट्रेटों की तैनाती कर सुरक्षा की कमान आरएएफ व पीएसी के हवाले कर दी गई है. ऐसा इसलिए है कि 6 दिसम्बर को बाबरी एक्शन कमेटी के यौमेगम और विहिप के विजय दिवस सहित अन्य संगठनों द्वारा कार्यक्रम के ऐलान को लेकर जिलेभर में अलर्ट घेाषित है. इस दौरान सुरक्षा के लिहाज से 6 कंपनी पीएसी दो कंपनी आरएफ, 4 एडिशनल एसपी, 10 डिप्टी एसपी, 10 इंस्पेक्टर, 150 सब इंस्पेक्टर , 500 सिपाही सहित डॉग स्कवायड, बम स्कवायड व खुफिया विभाग की टीमें लगाई गई हैं. वही प्रशासन ने स्पष्ट किया कि दर्शन-पूजन पर कोई रोक नहीं है, लेकिन सुरक्षा व शांति से खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

ayodhya 2 गुरुवार की सुबह से ही टेढ़ी बाजार चौराहा और नयाघाट पर डायवर्जन लागू कर चार पहिया वाहनों को दूसरे रास्तों से भेजा जा रहा है. वैसे अयोध्या में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने काला दिवस मनाते हुए अपनी दुकान, प्रतिष्ठान को बंद रखा है जबकि हिंदू समाज के लोग अपनी दुकान खोले हुए है और सभी सायंकाल दुकानों के बाहर दीपक जला कर शौर्य दिवस मनाएंगे. एसपी सिटी अनिल सिंह सिसोदिया ने बताया कि 6 दिसम्बर के मद्देनजर आज गुुरुवार को रामनगरी की सुरक्षा अभेद्य रहेेगी मुख्यालय से भारी मात्रा में पुलिस बल मिला है. जिले में पहले से ही धारा 144 लागू है.

ayodhyaहालांकि शिवसेना के आशीर्वाद समारोह व विहिप की धर्मसभा के बाद से ही अयोध्या में माहौल गरम है. राम जन्मभूमि की सुरक्षा के लिए व्यापक इंतजाम किए गए हैं. अयोध्या में प्रमुख स्थलों के साथ ही भीड़ वाले स्थानों पर मजिस्ट्रेटों को तैनाती कर खास नजर रखने को कहा गया है. महानगर की जुड़वा नगरी के साथ अयोध्या जिले के देहात में भी सतर्कता बढ़ा दी गई है. इस बारे में जिलाधिकारी डाॅ अनिल कुमार ने स्पष्ट किया है कि राम जन्मभूमि सहित सभी स्थानों पर दर्शन -पूजन पर कोई रोक नहीं है, लेकिन सुरक्षा व शांति से खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

 

Check Also

Shivam Mavi1

रणजी क्वार्टर फाइनल: यूपी के गेंदबाजों के आगे नहीं चले सौराष्ट्र के बल्लेबाज, पुजारा भी फ्लॉप 

लखनऊ । गेंदबाजो के धारदार प्रदर्शन के चलते यूपी ने बुधवार को यहां रणजी के …

beto

लोग अपनी बेटी और बेटों में कोई फर्क न करें : क्षमता रावत

बाराबंकी : समाज में छोटी बच्चियों के खिलाफ भेदभाव और लैंगिक असमानता की ओर ध्यान दिलाने …

yupi

यूपी राज्य महिला आयोग मुख्यालय पर हुई जनसुनवाई

लखनऊ: यूपी राज्य महिला आयोग द्वारा प्रदेश में महिला उत्पीड़न की घटनाओं पर रोकथाम और …

gaav

ग्रामीण क्षेत्रों में स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए ‘महात्मा गांधी खाद्य प्रसंस्करण ग्राम स्वरोजगार योजना’ शुरू

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार के अन्तर्गत उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में स्वरोजगार …

sainik

सहायक अध्यापकों की भर्ती में भूतपूर्व सैनिक भी आरक्षित वर्ग में लाभार्थी 

  लखनऊ: प्रदेश के अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा डा. प्रभात कुमार ने बताया कि सहायक …

haj

हज-2019 : अब तीन किश्तों में जमा कर सकते है हज यात्रा की रकम

लखनऊ: उत्तर प्रदेश राज्य हज समिति के सचिव विनीत कुमार श्रीवास्तव ने यहां बताया कि हज …