Breaking News
Home / बिजनेस / इंटीमेट वियर उद्योग की प्रदर्शनी का आयोजन अगले माह
wear

इंटीमेट वियर उद्योग की प्रदर्शनी का आयोजन अगले माह

wearलखनऊ। इंटीमेट अपरेल एसोसिएन ऑफ इंडिया (आईएएआई) कोच्चि और चेन्नई में सफलता के बाद उत्तर भारत के बाजारों को केन्द्रित करते हुये आगामी 21 और 22 जनवरी को इंटिमेसिया प्रदर्शनी का आयोजन करने जा रही है। इस प्रदर्शनी में इंटीमेट वियर उद्योग की बड़ी हस्तियां, रिटेलर्स एवं इंटीमेट वियर ब्रांड आप में मिलेंगे, कनेक्ट होंगे और प्रेरणा प्राप्त करेंगे। प्रगति मैदान में लगने वाली इस प्रदर्शनी के बारे में जानकारी देते हुय इंटीमेट अपरेल एसोसिएशन ऑफ इंडिया के चीफ ऑर्गेनाईज़र एवं सीईओ  यूसुफ दोहादवाला ने बताया इंटिमेसिया 3.0 का उद्देश्य अपने पिछले संस्करण के मुकाबले तीन गुना ज्यादा आगंतुकों को आकर्षित करना है।
इंटिमेसिया के साथ उत्तर भारत में फैशन और बिज़नेस का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन होगा। उल्लेखनीय है कि इंटीमेट वियर वर्तमान में गारमेंट ट्रेड में सबसे तेजी से विकसित होता सेक्टर है और इस उद्योग के केंद्र में दिल्ली स्थित है। इसलिए यह निर्माताओं एवं ट्रेड को विस्तृत एक्सपोज़र प्रदान करने के लिए उपयुक्त स्थान है। इसके साथ ही प्रगति मैदान में भारत की प्रीमियर एक्ज़िबिशन सुनिश्चित करेगी कि इंटिमेसिया 3.0 भारत की सिग्नेचर इंटीमेट वियर एक्स्पो बन जाए। यूसुफ दोहादवाला के मुताबिक इंटिमेसिया को सबसे अलग कॉन्सेप्ट के रूप में विकसित किया गया, जो एक ही बैनर तले ब्रांडों एवं रिटेलर्स में सर्वश्रेष्ठ को एक स्थान पर एकत्रित करेगी। उनका विज़न बहुत स्पष्ट होगा। फैशन एवं आइडिएशन को प्रमोट कर इनरवियर बिज़नेस को नई ऊँचाईयों पर ले जाना तथा इनोवेशन के साथ वार्ता को प्रोत्साहित करना। इस ईवेंट के पहले दो संस्करणों की अपार सफलता प्रमाणित कर चुकी है, कि इंटिमेसिया आपके वियरेबल्स को प्रदर्षित करने का केवल एक मंच ही नहीं है, बल्कि यहां पर ब्रांड्स एवं रिटेलर्स के लिए प्रदर्शनी, नए लॉन्च, नेटवर्किंग, अवसरों एवं भव्य मंच का समावेश है, जहां वो आपस में जुड़कर, खोज करके विकसित हो सकते हैं। पूरे देश के डेलिगेट्स, प्रतिभागी एवं आगंतुक इस मंच की प्रभावशीलता देखेंगे, जहां वो स्थायी संपर्क स्थापित करके अपने क्षेत्र में प्रभावशाली कार्य कर सकेंगे। प्रगति मैदान में हो रही इस प्रदर्शनी को लेकर आयोजक यूसुफ दोहादवाला ने बताया कि दिल्ली छह प्रमुख राज्यों की सीमाओं को छूता है और यहां से 86 प्रमुख शहरों को एक रात से भी कम की यात्रा में पहुंचा जा सकता है। शहर में वृद्धि दर 11.22 प्रतिशत जीएसडीपी है, जिसके कारण यह देश के सबसे तेजी से विकसित होते शहरों में से एक है। इसकी वृद्धि मजबूत नीति, सरकारी केंद्रण, अनुकूल भौगोलिक स्थान, फैशन के प्रति सचेत नागरिक, बुनियादी ढांचे, आर्थिक वातावरण और बिज़नेस के अनुकूल निवेश के सात स्तंभों पर टिकी है।

Check Also

opening h & w store

आयुर्वेदिक, शोधपरक स्वदेशी उत्पाद आज की जरूरत : डॉ जे पी मल्ल

लखनऊ। यूं तो हर्बल के नाम पर अनेकों प्रोडेक्ट्स देश में उपलब्ध हैं और कई …

kalraaj

लिबर्टी चालू वित्तीय वर्ष में 50 और आउटलेट्स खोलेगा

लखनऊ:प्रमुख फुटवियर ब्राण्ड लिबर्टी चालू वित्तीय वर्ष के अन्त तक देश में लगभग पचास और …

Godrej Interio -3

गोदरेज इंटेरियो की स्लीप एट10 अध्ययन का खुलासा, तीन-चौथाई लखनऊवासी असमय सोते हैं

लखनऊ: अध्ययन में खुलासा हुआ कि 75.8 प्रतिशत से अधिक लखनऊवासी कभी भी रात के …

Lucknow  ICICI Bank coin exchange melaJPG-PIC-LKO

आईसीआईसीआई बैंक ने यूपी और उत्तराखंड में आयोजित किए 162 मुद्रा विनिमय मेले

लखनऊः आईसीआईसीआई बैंक ने हाल ही में उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड में अपनी चुनिंदा शाखाओं में …

01

महिंद्रा ने लांच किया 1,700 किलो पेलोड क्षमता वाला पहला महा बोलेरो पिक-अप

लखनऊ: भारतीय पिकअप सेगमेंट में अग्रणी महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड ने सोमवार को अपने वाणिज्यिक …

Mr. Anil Chaudhry, MD and Country President in interactive session with media on Growth in Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश में अपनी उपस्थिति को मजबूत करने में जुटी श्नाइडर इलेक्ट्रिक

लखनऊ: ऊर्जा प्रबंधन और स्वचालन से जुड़े डिजिटल रूपांतरण की अगुवा कंपनी श्नाइडर इलेक्ट्रिक ने …