Breaking News
Home / क्राइम / गनर की चाहत और विरोधियों को फंसाने के लिए प्रत्यूष ने खुद पर करवाया था हमला
Untitled-1 copy

गनर की चाहत और विरोधियों को फंसाने के लिए प्रत्यूष ने खुद पर करवाया था हमला

Untitled-1 copyलखनऊ: भाजयुमो के पूर्व प्रदेश मंत्री प्रत्यूषमणि त्रिपाठी की हत्या नहीं हुई थी बल्कि उसने ही पुराने मामले के आरोपियों को फंसाने के लिए खुद पर चाकू से हमला कराया था. इस साजिश में शामिल प्रत्यूष के पांच साथियों को महानगर पुलिस ने सोमवार को जब गिरफ्तार किया तो यह सच सामने आया. इनमे से तीन आरोपी भाजपा कार्यकर्ता है. इन आरोपियों ने बताया कि प्रत्यूष की साजिश में वह शामिल नहीं हो रहे थे लेकिन उसने कहा कि उसके खिलाफ मुकदमा कराने वाले दूसरे धर्म के लोग उसे मार डालेंगे. फिर उसे गनर भी चाहिए जो साजिश के आरोपी गिरफ्तारी से मिल जायेंगे.

साजिश में शामिल प्रत्यूष के पांच साथियों को महानगर पुलिस ने किया गिरफ्तार किया तो सच आया सामने

कैसरबाग के तालाब गगनी शुक्ल मोहल्ले में रहने वाले प्रत्यूषमणि त्रिपाठी तीन दिसम्बर की रात बादशाहनगर चौराहे के पास घायल अवस्था में मिले थे। ट्रॉमा सेंटर में उसकी मौत हो गई थी. तीन दिसम्बर की रात जब उस पर चाकू से हमला किया गया तो वह ज्यादा तेज लग गया. घाव करीब आठ इंच का हो गया था, इस वजह से ज्यादा खून निकलने से ही उसकी मौत हो गई. पुलिस ने इन पांचों के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया है. पकड़े गए आरोपियों में सरोजनीनगर निवासी अनिल कुमार राणा, मड़ियांव निवासी आशीष अवस्थी, महेन्द्र गुप्ता, प्रभात कुमार उर्फ ऋषि और योगीनगर निवासी अमित अवस्थी उर्फ राजा शामिल हैं.

इस मामले में सलमान, अदनान औरे शीबू को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था हालांकि इन्हें प्रत्यूष से मारपीट के पुराने मामले में ही जेल भेजा गया था. दो आरोपी ध्रुव और रोहित फरार हैं, हालांकि शुरू से ही पुलिस इन आरोपियों को निर्दोष मान रही थी क्योंकि इनकी लोकेशन घटनास्थल पर नहीं मिली थी. वही पहला वार हल्का होने पर प्रत्यूष ने तेजी से मारने को कहा था.  आरोपियों में शामिल अनिल कुमार व आशीष ने पुलिस को बताया कि रात में प्रत्यूष के कहने पर सब लोग बादशाह नगर के पास इकठ्ठा हुए थे. यहीं पर पेट्रोल पम्प के साथ वाली सड़क पर सूनसान देख प्रत्यूष ने अनिल राणा से चाकू मारने को कहा. अनिल ने पहला वार किया जो प्रत्यूष की बांह पर लगा, इस पर प्रत्यूष ने कहा कि ऐसी जगह पर वार करना जहां पर लगे कि इस हमले से उसकी जान जा सकती थी. इस पर आशीष राणा ने सीने के पास तेजी से वार किया जो करीब आठ इंच गहराई तक घुस गया. प्रत्यूष दर्द से चीखा लेकिन बोला कि अब सब लोग जल्दी से जाओ. साथियों के जाते ही उसने खुद पर हमले की सूचना अपने परिवार व परिचितों को दी. कुछ देर में ही पुलिस वहां पहुंच गई और प्रत्यूष को घायल हालत में ट्रॉमा ले गयी. वहा  कुछ देर इलाज के बाद उसकी मौत हो गई थी. डॉक्टरों ने भी अपनी रिपोर्ट में लिखा था कि खून ज्यादा बह जाने की वजह से उसकी मौत हुई है।

Check Also

chess

शिवानी कप संडे ओपन चेस टूर्नामेंट 20 को, दांव पर 5,000 हजार की इनामी राशि 

लखनऊ। लखनऊ जिला चेस स्पोर्ट्स एसोसिएशन के तत्वावधान में 20 जनवरी को 18वीं शिवानी कप संडे …

अमजद अंसारी

अमजद के आठ विकेट के आगे कल्याणपुर स्ट्राइकर्स का निकला दम

लखनऊ। मैन ऑफ द मैच मो. अमजद अंसारी (आठ विकेट) की घातक गेंदबाजी से ब्रेवर्स …

999 club

27वीं इंदिरा प्रियदर्शिनी क्रिकेट प्रतियोगिताः संदीप ने झटके पांच विकेट तो ट्रिपल नाइन को मिली जीत

लखनऊ। मैन ऑफ द मैच संदीप छाबड़ा (पांच विकेट) की धारदार गेंदबाजी से ट्रिपल नाइन …

kabaddi

18 जनवरी को जिला सीनियर पुरूष व महिला कबड्डी टीम के चयन के लिए होंगे ट्रायल

लखनऊ। क्षेत्रीय खेल कार्यालय व जिला कबड्डी संघ के तत्वावधान में जिला सीनियर पुरूष व …

tennis

अंशुमान सिंह, ओम यादव, सिद्धार्थ यादव और सताक्षी तिवारी उलटफेर भरी जीत के साथ सेमीफाइनल में

लखनऊ। यूपी के अंशुमान सिंह, ओम यादव, सिद्धार्थ यादव और सताक्षी तिवारी ने आल इंडिया …

IMG20190115153223

वारियर्स फुटबॉल कप : अवध क्लब ने टाईब्रेकर में दर्ज की जीत

लखनऊ: जिला फुटबॉल संघ और अलीगंज वॉरियर्स क्लब की ओर से चौक स्टेडियम पर मंगलवार से …