Breaking News
Home / स्वास्थ्य / रक्त दान से पूरी हो सकती है रक्त की कमी : चिकित्सा शिक्षा मंत्री
22

रक्त दान से पूरी हो सकती है रक्त की कमी : चिकित्सा शिक्षा मंत्री

22लखनऊ। विश्व रक्तदाता दिवस के अवसर पर केजीएमयू के ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग द्वारा शताब्दी अस्पताल फेज २ से शहीद स्मारक तक श्रक्तदान जागरूकता रैली का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में पैरामेडिकल साइंसेस के विद्यार्थियों द्वारा नुक्कड़ नाटक के माध्यम से आमजन को रक्तदान के लिए प्रेरित किया गया तथा रक्तदान प्रति समाज मेें फैली भ्रांतियों के बारे में जागरूक किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि चिकित्सा शिक्षा एवं प्राविधिक शिक्षा मंत्री उत्तर प्रदेश आशुतोष टण्डन ने श्रक्तदान जागरूकता रैली को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।

चिकित्सा शिक्षा एवं प्राविधिक शिक्षा मंत्री ने कहा कि रक्त का कोई विकल्प नहीं है और रक्तदान के द्वारा ही रक्त की आवश्यकता को पूरा किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि रक्तदान को लेकर समाज में विभिन्न प्रकार की भ्रांतियां फैली है, लेकिन अब समाज में इसके प्रति जागरुकता आ रही है और समाज के प्रत्येक व्यक्ति का यह कर्तव्य है कि वह रक्तदान के लिए अपने आसपास के हर वर्ग के लोगों को रक्तदान के लिए प्रेरित करे।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए केजीएमयू के कुलपति प्रो एमएलबी भट्ट ने रक्त पर शोध एवं रखरखाव पर आने वाले व्यय के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए राज्य सरकार एवं केजीएमयू ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. तूलिका चन्द्रा के सहयोग की सराहना की। उन्होंने कहा कि हजारों रूपए का व्यय होने के बाद भी जरूरतमंदों को निशुल्क रक्त उपलब्ध कराया जा रहा है और इसके साथ ही आमजन को भी रक्तदान कर इस पुनीत कार्य में सहयोग करने के लिए प्रेरित किया गया है।

Check Also

s

महिला एवं बच्चे स्वास्थ्य के लिए स्थानीय स्तर पर उपलब्ध पौधों का करे अधिकाधिक उपयोग

लखनऊ, 10 अगस्त 2019: राष्ट्रीय वनस्पति अनुसंधान संस्थान (एनबीआरआई) लखनऊ के सौजन्य से जनता जूनियर हाई …

Photo

कब्ज से मिलेगी प्रभावी राहत डाबर कब्ज़ ओवर से, आयुर्वेद की शक्ति लैक्सेटिव कैटेगिरी का दिखेगा असर

लखनऊ, 9 अगस्त 2019।  दुनिया की सबसे बड़ी विज्ञान-आधारित आयुर्वेद कंपनी डाबर इंडिया लिमिटेड ने आज …

1

माहवारी के दौरान स्वच्छता और हड्डी की दिक्कत महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए गंभीर चिंताजनक

लखनऊ: प्रधान मंत्री द्वारा शुरू किए गए नीतिआयोग के “आकांक्षी जिलों के कार्यक्रम (Aspirational Districts Programme)” …

IMG-20190728-WA0002

पहले चरण में देश के बारह शहरों में इस प्रोग्राम में युवा फिजिशियन होंगे प्रशिक्षित

नयी दिल्ली। ग्लोबल एसोसिएशन ऑफ फिजिशियन्स ऑफ इण्डियन ओरिजिन (जीएपीआईओ) ने युवा फिजिशियन्स को प्रशिक्षित करने …

Photo 1 cut

क्रोनिक हेपेटाईटिस संक्रमण के बढ़ रहे मामले, विश्व में भारत दूसरे स्थान पर

लखनऊ। क्रोनिक हेपेटाईटिस संक्रमणों की संख्या में चीन के बाद भारत दूसरे स्थान पर है। लगभग …

Photograph

2030 तक भारत से मलेरिया खत्म करने का संकल्प, गोदरेज का यूपी सरकार के साथ त्रिपक्षीय एमओयू

लखनऊ: गोदरेज कंज़्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड (जीसीपीएल) ने स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय, उत्तर प्रदेश सरकार, …