July 28, 2021

हरियाणा के 11 मुक्केबाजों के मुक्कों का दम, सेमीफाइनल में बनायीं जगह

प्रतीकात्मक चित्र सोशल मीडिया

प्रतीकात्मक चित्र सोशल मीडिया

Share This News

सोनीपत के दिल्ली पब्लिक स्कूल में जारी चौथी युवा पुरुष और महिला राष्ट्रीय चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में मौजूदा विश्व चैंपियन गीतिका की अगुवाई में हरियाणा के 11 मुक्केबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए सेमीफाइनल में जगह बना ली है. गीतिका (48 किग्रा) ने टूर्नामेंट में अपना प्रभावशाली प्रदर्शन जारी रखा है.

प्रतीकात्मक चित्र सोशल मीडिया
प्रतीकात्मक चित्र सोशल मीडिया

गीतिका ने अंतिम 8 दौर के बाउट में दिल्ली की संजना पर 5-0 से जीत दर्ज की. गीतिका ने अपनी ख्याति के साथ न्याय करते हए पूरे मैच के दौरान जोरदा आक्रमण और परिपक्वता का बेहतरीन संयोजन पेश किया. गीतिका सेमीफाइनल में गुरुवार को उत्तर प्रदेश की रागिनी उपाध्याय से मैच होगा.

लाइट फ्लाईवेट 50 किग्रा भार वर्ग के क्वार्टर फाइनल में, हरियाणा की तमन्ना ने चंडीगढ़ की काजल के खिलाफ घूंसे की झड़ी के साथ मैच शुरू किया. रेफरी ने दूसरे दौर के शुरू में मैच रोक और काजल पर पूरी तरह हावी तमन्ना के विजेता होने का ऐलान किया. सेमीफाइनल में जगह बनाने वाले हरियाणा के बाकी के 9 मुक्केबाज नीरू (52 किग्रा), नेहा (54 किग्रा), प्रीति (57 किग्रा), प्रीति दहिया (60 किग्रा), खुशी (63 किग्रा), लशु यादव (70 किग्रा), स्नेहा (75 किग्रा), निधि (81 किग्रा) और दीपिका (+81 किग्रा) हैं.

ये भी पढ़े : राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में गीतिका व बिश्वामित्र

चंडीगढ़ की नेहा (48 किग्रा) और पंजाब की सुविधा (50 किग्रा) ने भी क्रमश: पश्चिम बंगाल की मोनिका मल्लिक और तमिलनाडु की दिलसाद बेगम के खिलाफ शानदार जीत के साथ सेमीफाइनल में जगह बनायीं है. इस बीच पुरुष वर्ग में, 2021 यूथ वर्ल्ड चैंपियनशिप के कांस्य पदक चैंपियन बिश्वामित्र चोंगथम (51 किग्रा) की अगुवाई में सर्विसेज स्पोर्ट्स कंट्रोल बोर्ड के मुक्केबाजों ने अपना दबदबा बनाया.

एएससीबी के 3 मुक्केबाज  ने सेमीफाइनल में एंट्री ली . सेमीफाइनल में पहुंचने वाले अन्य दो एसएससीबी मुक्केबाज विश्वनाथ सुरेश और विक्टर सिंह (54 किग्रा) हैं. देशभर से 479 मुक्केबाज युवा पुरुष और महिला राष्ट्रीय चैंपियनशिप  में हिस्सा ले रहे हैं. कोरोना के चलते एक साल से भी अधिक समय तक भारत में मुककेबाजी इवेंट्स नहीं हो सके थे. ये भारत में होने वाला पहला घरेलू मुक्केबाजी कार्यक्रम है.

इस यूथ इवेंट के बाद जूनियर बॉयज़ नेशनल चैंपियनशिप का तीसरा संस्करण और जूनियर गर्ल्स नेशनल चैंपियनशिप का चौथा संस्करण खेला जाएगा. जिसका आयोजन 26 से 31 जुलाई तक होगा.

यूथ और जूनियर नेशनल चैंपियनशिप मुक्केबाजों को अपने कौशल का प्रदर्शन करने का एक अच्छा मौका देती है क्योंकि इसके माध्यम से 2021 एएसबीसी युवा और जूनियर मुक्केबाजी चैंपियनशिप के लिए मुक्केबाजी टीम का चयन किया जाएगा. 2021 एएसबीसी युवा और जूनियर मुक्केबाजी चैंपियनशिप का आयोजन 17 से 31 अगस्त तक दुबई में होगा.


Share This News