July 28, 2021

नेशनल मुक्केबाजी के फाइनल में हरियाणा की 12 महिला मुक्केबाजों ने बनायीं जगह

Share This News

सोनीपत के दिल्ली पब्लिक स्कूल में हो रही चौथी युवा पुरुष और महिला राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के फाइनल में हरियाणा की 12 महिला मुक्केबाजों और सर्विसेज स्पोर्ट्स कंट्रोल बोर्ड के 9 पुरुष मुक्केबाजों ने जगह बना ली है.

एसएससीबी के विश्वनाथ सुरेश (48 किग्रा) ने तेज तर्रार प्रदर्शन से पंजाब के गोपी को मात दी. सभी जजों ने सुरेश के पक्ष में फैसला दिया. अगले दौर के मैच में उनका मैच आंध्र प्रदेश के उपेंद्र चल्ला से होगा

युवा विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीत चुके विश्वामित्र चोंगथम (51 किग्रा) का मैच हरियाणा के रमन से होगा. उन्होंने अपना शानदार फॉर्म जारी रखते हुए और फाइनल में जगह बनाने के रास्ते में एक और 5-0 के अंतर की जीत दर्ज की. अब वो गोल्ड मैडल के लिए हिमाचल प्रदेश के अभिनव कटोच से भिड़ेंगे.

प्री- क्वार्टरफाइनल में जगह बनाने वाले सर्विसेज स्पोर्ट्स कंट्रोल बोर्ड के शेष 7 मुक्केबाज विक्टर सिंह (54 किग्रा), विजय सिंह (57 किग्रा), रबीचंद्र सिंह (60 किग्रा) सनतोई मैतेई (63 किग्रा), अंजनी कुमार (67 किग्रा), जयदीप रावत (71 किग्रा), दीपक हैं. (75 किग्रा) रहे. महिला वर्ग में, 2021 की युवा विश्व विजेता गीतिका (48 किग्रा) ने दिन के पहले मैच में उत्तर प्रदेश की रागिनी उपाध्याय के खिलाफ 5-0 की जीत हासिल की.

गीतिका ने दूरी बनाते हुए रागिनी का सामना किया औऱ तीन राउंड के दौरान अपने प्रतिद्वंद्वी पर कई स्पष्ट घूंसे मारे. अब उनका मैच उत्तराखंड की निवेफिता कार्की से होगा. 52 किग्रा फ्लाईवेट वर्ग के सेमीफाइनल में, हरियाणा की नीरू खारती को पहले रांउंड में उत्तर प्रदेश की आंचल सिंह के कड़े विरोध का सामना करना पड़ा.

ये भी पढ़े : हरियाणा के 11 मुक्केबाजों के मुक्कों का दम, सेमीफाइनल में बनायीं जगह

नीरू ने और अगले दो राउंड में जजों को संतुष्ट करने वाला प्रदर्शन कर 5-0 से जीत हासिल की. इस जीत के लिए नीरू ने आखिरी दो राउंड में आक्रमण की रणनीति अपनाई. तमन्ना (50 किग्रा), नेहा (54 किग्रा), प्रीति (57 किग्रा), प्रीति दहिया (60 किग्रा), खुशी (63 किग्रा), मुस्कान (66 किग्रा) सनेहा (75 किग्रा), निधि (81 किग्रा) , लशु यादव (70 किग्रा) और दीपिका (+81 किग्रा ) सेमीफाइनल में जीतने वाली हरियाणा की अन्य 10 मुक्केबाज हैं.

पुरुष और महिला दोनों वर्ग के प्री- क्वार्टरफाइनल मैच शुक्रवार को होंगे. हरियाणा की महिला टीम ने 2019 में आयोजित पिछले यूथ नेशनल में खिताब जीता था. पुरुष वर्ग में एसएससीबी टीम ने शीर्ष सम्मान मिला था. देश भर से 479 मुक्केबाजों की उपस्थिति के साथ, युवा पुरुष और महिला राष्ट्रीय चैंपियनशिप का चौथा संस्करण कोरोना के चलते एक साल से अधिक के अंतराल के बाद भारत में होने वाला पहला घरेलू मुक्केबाजी कार्यक्रम है.

इस यूथ इवेंट के बाद जूनियर बॉयज़ नेशनल चैंपियनशिप का तीसरा संस्करण और जूनियर गर्ल्स नेशनल चैंपियनशिप का चौथा संस्करण खेला जाएगा जो 26 से 31 जुलाई तक निर्धारित है.

यूथ और जूनियर नेशनल चैंपियनशिप मुक्केबाजों को अपने कौशल का प्रदर्शन करने का एक अच्छा अवसर देती है. क्योंकि शीर्ष प्रदर्शन करने वालों को 2021 एएसबीसी यूथ एंड जूनियर बॉक्सिंग चैंपियनशिप के लिए चुना जाएगा. इस चैंपियनशिप का आयोजन 17 से 31 अगस्त के बीच दुबई में होगा.


Share This News