July 24, 2021

एसीसी और अंबुजा सीमेंट सड़क सुरक्षा में ऐसे निभाएंगे अग्रणी भूमिका

प्रतीकात्मक चित्र सोशल मीडिया

प्रतीकात्मक चित्र सोशल मीडिया

Share This News

दुनिया में जितने भी वाहन हैं, भारत में उनका सिर्फ 1 फीसदी है, जबकि सड़क दुर्घटनाओं में हुई वैश्विक मौतों में भारत का हिस्सा 11 फीसदी है. ऐसे में होल्सिम समूह की भारतीय कंपनियों – अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड और एसीसी लिमिटेड ने स्वास्थ्य और सुरक्षा सुधार योजना ‘हेल्थ एंड सेफ्टी इम्प्रूवमेंट प्लान’ (एचएसआईपी) लागू की है.

लक्ष्य ‘हर दिन सभी की सुरक्षित घर वापसी’ है. ‘हेल्थ एंड सेफ्टी इम्प्रूवमेंट प्लान’ (एचएसआईपी) को वर्ष 2020 में एचएंडएस की लीडरशिप भागीदारी में शुरू किया गया था. स्वास्थ्य प्रबंधन, जोखिम प्रबंधन, लॉक आउट टैग आउट एंड ट्राई आउट (एलओटीओटीओ) और सड़क सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए विशिष्ट उपाय लागू किए गए थे.

प्रतीकात्मक चित्र सोशल मीडिया
प्रतीकात्मक चित्र सोशल मीडिया

एचएसआईपी के तहत, एसीसी और अंबुजा सीमेंट्स ने कौशल विकास और ड्राइविंग व्यवहार प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित करते हुए सड़क सुरक्षा में महत्वपूर्ण प्रगति की है.

सड़क सुरक्षा प्रबंधन को मानकीकृत करने के लिए, एसीसी और अंबुजा ने अपने ट्रांसपोर्ट एनालिटिक सेंटर (टीएसी) के माध्यम से एक डेटा संग्रह और विश्लेषण अपनाया, जो डैशबोर्ड पर ड्राइवरों की क्षमताओं का आकलन करने के लिए प्रौद्योगिकी और डेटा एनालिटिक्स का उपयोग करता है और उनके सुरक्षित ड्राइविंग कौशल को और बेहतर बनाने के लिए उन्हें अनुरूप कोचिंग प्रदान करता है.

ये भी पढ़े :  नए वेल्थ टेक ऐप ‘गिल्डेड’ से प्रमाणित स्विस गोल्ड में ये है आंशिक निवेश का ऑफर

टीएसी और आईवीएमएस प्लेटफॉर्म से डेटा का उपयोग करके कोच और परामर्शदाताओं को प्रशिक्षित संसाधन प्रदान करने के लिए सभी संयंत्रों में डीएमसी (चालक प्रबंधन केंद्र) स्थापित किए गए थे.

एसीसी और अंबुजा सीमेंट ने कर्मचारियों को इन-कैब प्रशिक्षण और मूल्यांकन कार्यक्रम को पूरा करने में भी सक्षम बनाया, जहां वे कक्षा प्रशिक्षण प्राप्त करते हैं और उसके बाद ऑन-रोड प्रशिक्षण प्राप्त करते हैं, जिसका मूल्यांकन मास्टर प्रशिक्षकों द्वारा भी किया जाता है.


Share This News