Breaking News
Home / गैलरी / झारखंड के लिए उपयुक्त औषधीय एवं सगंध पौधों की खेती पर चर्चा करेंगे सीमैप के वैज्ञानिक
IMG-20190709-WA0007

झारखंड के लिए उपयुक्त औषधीय एवं सगंध पौधों की खेती पर चर्चा करेंगे सीमैप के वैज्ञानिक

IMG-20190709-WA0007लखनऊ: केन्द्रीय औषधीय एवं सगंध पौधा संस्थान (सीमैप), लखनऊ एवं झारखंड राज्य आजीविका प्रमोशन सोसाइटी, ग्रामीण विकास विभाग, झारखंड राज्य सरकार के द्वारा जोहार परियोजना के अंतर्गत तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ मंगलवार को किया गया. इस कार्यक्रम में झारखंड राज्य आजीविका प्रमोशन सोसाइटी के सदस्य, जिला परियोजना अधिकारी, ब्लॉक परियोजना अधिकारी तथा प्रक्षेत्र तकनीकी कार्यकर्ताओं सहित 28 सदस्यों ने भाग लिया. तीन दिन तक चलने वाले इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का उदघाटन सीमैप के कार्यकारी निदेशक डॉ. अब्दुल समद ने करते हुए कहा कि औषधीय एवं सगंध पौधों की विश्व स्तरीय मांग को देखते हुए इनकी खेती करना आवश्यक हो गया है.

औषधीय एवं सगंध पौधों की उन्नत कृषि प्रौद्योगिकियों पर झारखंड राज्य के किसानों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रारंभ 

घटते जल स्तर तथा जानवरों से होने वाले नुकसान की समस्या के कारण भी औषधीय एवं सगंध पौधों की खेती की मांग बढ़ी है. संस्थान के वैज्ञानिकों के अथक प्रयासों द्वारा किसानों के लिये औषधीय एवं सगंध पौधों की उन्नत प्रजातियाँ विकसित की गयी हैं जिनसे किसानों को अधिक पैदावार से अधिक लाभ मिलेगा. उन्होने आगे कहा कि अगले दो दिन चलने वाले इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में सीमैप के वैज्ञानिक झारखंड राज्य के लिए उपयुक्त आर्थिक रूप से महत्वपूर्ण औषधीय एवं सगंध पौधों की खेती पर विस्तार से चर्चा करेंगे तथा साथ ही प्रसंस्करण एवं भंडारण की तकनीकियों पर भी चर्चा करेंगे जिससे किसानों के उत्पादन को राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर की गुणवत्ता को बनाया जा सके और उसका अधिक तथा उचित मूल्य किसानों को मिल सके. इन औषधीय एवं सगंध फसलों में मुख्यतः नीबूघास, पामारोजा, जिरेनियम, तुलसी इत्यादि हैं. वर्तमान में इनके तेलों की मांग विश्व बाज़ार में अधिक है.

आज के प्रशिक्षण कार्यक्रम में नीबूघास, रोशाघास, खस एवं तुलसी के उत्पादन की उन्नत कृषि तकनीकी पर विस्तार से जानकारी दी गयी. साथ ही सगंध तेलों एवं औषधीय पौधों की आसवन विधियों पर महत्वपूर्ण तकनीकी जानकारियों से अवगत कराया गया तथा आसवन विधियों का प्रदर्शन किया गया. इस अवसर पर सीमैप के डॉ.सौदान सिंह, डॉ.संजय कुमार, डॉ.राम सुरेश शर्मा, इ.सुदीप टंडन, डॉ.आरके श्रीवास्तव एवं झारखंड राज्य आजीविका प्रमोशन सोसाइटी झारखंड के अंकित श्रीवास्तव उपस्थित थे. 

Check Also

Photo 1

People’s participation: सामाजिक संस्थाओ ने लिया जनसमस्याओं के निराकरण का संकल्प

लखनऊ। जनसमस्याओं के निराकरण के साथ क्षेत्रों के विकास के लिये आम लोगों की सहभागिता …

2018_12image_14_09_129072610kalbejawad-ll (1)

विवादस्पद फिल्म बनाने से ख़राब होगा देश का माहौल: मौलाना कल्बे जवाद

लखनऊ: शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी के पैगंबर मोहम्मद साहब की पत्नी …

haj

लखनऊ से हज के लिए पहली उड़ान की रवानगी 21 को

लखनऊ: राज्य हज कमेटी के सचिव राहुल गप्ता ने बताया कि सरोजनी नगर में बने …

Pic 1

‘चलो हर बच्चे के लिए एक मुस्कान तलाशें‘ की सीख के साथ हुई ‘वाइब्रैंट विदिशा‘ चित्रकला प्रतियोगिता

लखनऊ: ‘वाइब्रैंट विदिशा 2019‘ कार्यक्रम महानगर विस्तार स्थित विदिशा पार्क में सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ। बच्चों …

IMG-20190708-WA0074

Tribute : पूर्व सीएम बाबू बनारसी दास को 107वीं जयन्ती पर अर्पित की गयी भावभीनी श्रद्धांजलि

लखनऊ। बाबू बनारसी दास नगर निवासी कल्याण समिति के तत्वावधान में उनके पुराना किला स्थित आवास …

aam

Mangoes : हाइब्रिड सहित यूपी के आमों की विभिन्न किस्मों को मिले कई कद्रदान

लखनऊ: 31 वें दिल्ली मैंगो फेस्टिवल में पश्चिम बंगाल, बिहार, हरियाणा और उत्तराखंड राज्यों के आमों के होने …