July 24, 2021

यूपी बोर्ड में कक्षा 10 के एग्जाम कैंसिल, 11वीं कक्षा में प्रमोट होंगे छात्र

उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा

उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा

Share This News

लखनऊ। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के चलते कई राज्यों में एग्जाम पर असर पड़ा है. इन्ही हालात में कई राज्यों में हाईस्कूल (कक्षा 10) की परीक्षा रद्द कर दी गयी है. इसी क्रम में यूपी सरकार ने अमल किया है और  उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपीएमएसपी) ने भी हाईस्कूल परीक्षा कैंसिल कर दी है. इसके साथ ही कक्षा 10 के सभी छात्र 11वीं कक्षा में प्रमोट होंगे.

10वीं की परीक्षा के लिए इस बार करीब 29 लाख छात्र रजिस्‍टर्ड

उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा
उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा

इस बारे में उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने जानकारी देते हुए कहा कि 10वीं की परीक्षा के लिए  इस बार करीब  29 लाख छात्र रजिस्‍टर्ड हैं जो बिना परीक्षा के अगली कक्षाओं में प्रमोट होंगे.  उन्होंने कहा कि इसके लिए उत्तर प्रदेश मध्यमिक शिक्षा परिषद को दिशा-निर्देश बनाने को कहा गया है.

यूपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा इतिहास में पहली बार  रद्द

अब यूपी बोर्ड 10वीं क्लास का रिजल्ट पिछली परीक्षाओं और आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर घोषित होगा. इस बारे में यूपी बोर्ड कई दिन से तैयारी कर रहा था. यूपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा इतिहास में पहली बार  रद्द की गई हैं. इससे पहले सीबीएसई, आईसीएससीई , एमपी बोर्ड, पंजाब बोर्ड, हरियाणा बोर्ड आदि बोर्ड भी 10वीं की परीक्षा रद्द कर चुके है.

12वीं की परीक्षा कराने के बारे में जल्द फैसला होने के आसार

इसके साथ ही ये भी जानकारी मिली कि यूपी बोर्ड 12वीं की परीक्षा जुलाई के दूसरे हफ्ते में हो सकती हैं. वही  इस बार परीक्षा 3  घंटे की जगह  1.5 घंटे की होगी और 10 में से 3 प्रश्नों के ही उत्तर लिखने होंगे. इसके साथ ही बोर्ड परीक्षा को लेकर संशय खत्म हो गया है.  वही परीक्षा 15 दिन में ही खत्म होगी.

डॉ. दिनेश शर्मा के अनुसार कक्षा 12वीं की परीक्षा के लिए सभी सावधानी के साथ जुलाई के दूसरे सप्ताह में परीक्षा प्रस्तावित है जिसका शेड्यूल जल्द ही जारी होगा.

एक जून से फ्री वैक्सीनेशन महाअभियान के लिए राज्य में ये है योजना

इससे पहले यूपी बोर्ड की ओर से स्कूलो को कक्षा 9 और 10 के प्रीबोर्ड-छमाही के अंक वेबसाइट पर अपलोड करने के निर्देश दिए गए थे. बताते चले कि   सीबीएसई बोर्ड में 10 से 15 लाख विद्यार्थी बैठते हैं . यूपी बोर्ड दुनिया का सबसे बड़ा बोर्ड है जिसमें 55-56 लाख विद्यार्थी हैं.


Share This News