Breaking News
Home / खुली बहस / Comment : संवेदनहीनता की हद तब देखने को मिलती है जब नहीं मिलता शव वाहन : अखिलेश यादव
akhilesh

Comment : संवेदनहीनता की हद तब देखने को मिलती है जब नहीं मिलता शव वाहन : अखिलेश यादव

akhileshलखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं का बहुत बुरा हाल है। सरकारी अस्पतालों में मरीज तड़पते रहते हैं उनके प्रति सामान्य मानवीय संवदेना भी नहीं दिखाई जाती है। अस्पतालों में दवा तक उपलब्ध नहीं है। स्ट्रेचर मरीजों को उपलब्ध न होने से तीमारदार ही उन्हें गोद में लाने को मजबूर होते हैं। यही भाजपा सरकार का अमानवीय आचरण है।

  • स्ट्रेचर के अभाव में मरीजों को गोद में ही ले जाते हैं तीमारदार

अखिलेश ने बताया कि संवेदनहीनता की हद तो तब देखने को मिलती है जब गरीब और असहाय व्यक्ति को उसके निकट सम्बंधी की मृत्यु पर शव वाहन तक नहीं मिलता है और घरवाले किसी तरह शव लेकर पैदल ही लम्बा सफर तय करने को मजबूर होते हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का तो और भी बुरा हाल दिखाई देता है।
सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि समाजवादी सरकार में मरीज को घर से अस्पताल तक लाने के लिए 108 समाजवादी एम्बुलेंस सेवा और प्रसूताओं को अस्पताल लाने-ले जाने के लिए 102 नं. सेवा शुरू की गई थी। भाजपा सरकार ने इसे बर्बाद कर दिया। नतीजतन, घंटो फोन करने पर भी एम्बुलेंस नहीं मिलती है। प्रसूताओं का प्रसव सड़क पर हो जाता है इस लापरवाही से नवजात या प्रसूता की मौत तक हो जाती है।
पूर्व मुख्यमंत्री ने बताया कि मरीज बड़ी उम्मीदों के साथ डाक्टर के पास आता है जिसको भगवान की संज्ञा दी जाती है। जब उनके सम्बंध बिगड़ते हैं तो तीमारदारों-डाक्टरों के बीच तनाव और संघर्ष के हालात पैदा हो जाते हैं। भाजपा सरकार अस्पतालों की व्यवस्था सुधारने में कोई रूचि नहीं ले रही है। भाजपा स्वास्थ्य से खिलवाड़ करने में ही लगी है।

Check Also

60

जुमलों की सरकार ने छीन लिये पांच करोड़ रोजगार : प्रियंका

लखनऊ । भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की महासचिव एवं पूर्वी उप्र की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा …

aditi par attack copy

कांग्रेस विधायक अदिति सिंह पर जानलेवा हमला

लखनऊ। प्रदेश में कानून व्यवस्था गुण्डों के हाथ में है और गुण्डा राज की कमान योगी सरकार …

samna activist

छह चरण गुजरने के बाद भी नहीं आया नीतीश सरकार की जदयू का घोषणा पत्र

मुरली मनोहर श्रीवास्तव (सह पत्रकार, पटना) लोकसभा चुनाव में छह चरण के चुनाव संपन्न हो …

suresh hindustani

खोखली राजनीति और जनता का आक्रोश

सुरेश हिन्दुस्थानी भारतीय राजनीति और राजनेताओं के प्रति आम जनता की भड़ास का प्रकट होना …

ajhr

भारत की बड़ी कूटनीतिक जीत : सुरेश हिन्दुस्थानी

संयुक्त राष्ट्र द्वारा अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित हो चुके जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर भारत में कई …

68

मतदान के प्रति उत्साह क्यों नहीं ? : सुरेश हिन्दुस्थानी

चुनाव आयोग और मतदान के प्रति जागरुकता लाने वाले प्रेरक संगठनों के तमाम प्रयासों के …