July 24, 2021

कोरोना इफ़ेक्ट : लगातार दूसरे साल नहीं होगी बाबा अमरनाथ यात्रा

फाइल फोटो सोशल मीडिया

फाइल फोटो सोशल मीडिया

Share This News

जम्मू :  कोरोना महामारी की दूसरी लहर के चलते बिगड़े हालात का असर फिर  बाबा अमरनाथ यात्रा पर पड़ गया है. दरअसल इस साल भी अमरनाथ यात्रा कैंसिल हो गयी है. इस बारे में उपराज्यपाल मनोज सिन्हा (श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड के चेयरमैन) ने  बोर्ड के सदस्यों के साथ वार्ता के बाद फैसला लिया.

वैसे लगातार दूसरे साल बाबा अमरनाथ की यात्रा नहीं होगी और  2020 में भी कोरोना के कारण यात्रा कैंसिल हुई थी. जानकारी के अनुसार इस साल भी शिव भक्त ऑनलाइन  बाबा बर्फानी की पवित्र गुफा से सुबह व शाम को आरती के दर्शन कर सकेंगे और  यात्रा सांकेतिक ही होगी और अभी  पवित्र गुफा में पारंपरिक धार्मिक पूजा अर्चना चलती रहेगी.

सीधे प्रसारण के साथ श्राईन बोर्ड के मोबाइल आधारित ऐप पर भी होंगे आरती के दर्शन

फाइल फोटो सोशल मीडिया
फाइल फोटो सोशल मीडिया

इस बैठक में  उपराज्यपाल ने श्राईन बोर्ड द्वारा पवित्र गुफा से आरती के सीधे प्रसारण किया हैं. उपराज्यपाल  के अनुसार  लोगों की जिंदगी बचाना जरूरी है. वैसे श्री अमरनाथ श्राईन बोर्ड लाखों शिव भक्तों की आस्था की कद्र करता है इसलिए आरती का सीधा प्रसारण होगा. उपराज्यपाल के अनुसार प्रथम पूजा व संपन्न पूजा के टाइम कोरोना की रोकथाम के दिशा निर्देशों का पालन होना चाहिए.

ये भी पढ़े : जम्मू-कश्मीर के मामले में हो सकता है बड़ा फैसला 

वैसे परम्परा के अनुसार  श्री पवित्र गुफा पहुंचने वाले संतों को आरती होनी है और कोरोना की रोकथाम के दिशा निर्देश माने जायेंगे, बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नीतिश्वर कुमार के अनुसार  22 अगस्त को रक्षाबंधन वाले दिन यात्रा के समापन पर छड़ी मुबारक के प्रबंध होंगे.

बोर्ड ने केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर और देश में कोरोना की स्थिति की समीक्षा करते हुए बोला कि  सुबह छह बजे से और शाम पांच बजे से आधे घंटे के लिए आरती का बोर्ड की अधिकारिक वेबसाइट पर सीधे प्रसारण के साथ श्राईन बोर्ड की मोबाइल आधारित ऐप पर भी आरती के दर्शन होंगे. वैसे अमरनाथ यात्रा 28 जून से शुरू होनी थी और 56 दिन की यात्रा रक्षा बंधन वाले दिन 22 अगस्त को पूरी  होनी थी.

ये भी पढ़े : कोरोना टीकाकरण के मामले में दिल्ली से आगे यूपी की जेल

वही कोरोना के हालात के चलते श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने पहले ही पंजीकरण बीच में रोक दिया था जबकि  अग्रिम पंजीकरण एक अप्रैल से शुरू हुआ था. इस बीच यात्रा के मसले पर उपराज्यपाल दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय गृह सचिव से भी मिले थे. वैसे पिछले साल भी बाबा बर्फानी की पवित्र गुफा से आरती का सीधा प्रसारण हुआ था.

श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड की बैठक में  बोर्ड के सदस्य-स्वामी अवधेशानंद, डीसी रैना, देवी प्रसाद शेट्टी, प्रो.अनीता बिलौरिया, सुदर्शन कुमार, प्रो.विश्वमूर्ति शास्त्री, पंडित भजन सोपोरी, डा. सीएम सेठ, त्रिपता धवन के साथ मुख्य सचिव अरुण मेहता, पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह, गृह विभाग के प्रमुख सचिव शालीन काबरा, बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नीतिश्वर कुमार भी मौजूद थे.


Share This News