Breaking News
Home / इंटरव्यू / अगर पता चले कि मैच फिक्स है, तो लोगों का क्रिकेट से उठ जाएगा विश्वास : धौनी
dhoni csk

अगर पता चले कि मैच फिक्स है, तो लोगों का क्रिकेट से उठ जाएगा विश्वास : धौनी

dhoni cskनई दिल्ली: ”2013 मेरे जीवन का सबसे कठिन दौर था. मैं कभी इतना निराश नहीं हुआ जितना उस समय था. इससे पहले विश्व कप 2007 में भी निराश हुए थे जब हम ग्रुप चरण में ही हार गए थे। लेकिन उसमें हम खराब क्रिकेट खेले थे. इन शब्दों के साथ महेंद्र सिंह धौनी ने इंडियन प्रीमियर लीग मैच फिक्सिंग प्रकरण पर चुप्पी तोड़ते हुए इसे अपने जीवन का सबसे कठिन और निराशाजनक दौर बताया. भारतीय क्रिकेट को झकझोर देने वाले इस प्रकरण में प्रबंधन की भूमिका के कारण चेन्नई सुपर किंग्स को दो साल का प्रतिबंध झेलना पड़ा जिस पर जवाब देते हुए धौनी ने सवाल दागा कि खिलाड़ियों का क्या कसूर था. दो बार के विश्व कप विजेता कप्तान महेंद्र सिंह धौनी  ने ‘रोर ऑफ द लॉयन’ डॉक्यूड्रामा में इस मसले पर कहा कि 2013 में तस्वीर अलग थी.
मैच फिक्सिंग पर आखिर बोले- खिलाड़ियों की क्या गलती थी कि उन्हें यह सब झेलना पड़ा
लोग मैच फिक्सिंग और स्पॉट फिक्सिंग की बात करते थे. उस समय देश भर में यही बात हो रही थी. इस सीरीज के हॉटस्टार पर प्रसारित पहले एपिसोड ‘वॉट डिड वी डू रॉन्ग’ में धौनी ने कहा कि हमारी टीम ने गलती की लेकिन क्या खिलाड़ी इसमें शामिल थे. खिलाड़ियों की क्या गलती थी कि उन्हें यह सब झेलना पड़ा. खिलाड़ियों को पता था कि कड़ी सजा मिलेगी. उस समय हमें सजा मिलने जा रही थी बस यह जानना था कि सजा कितनी होगी. चेन्नई सुपर किंग्स पर दो साल का प्रतिबंध लगा.कप्तान के तौर पर यही सवाल था कि टीम की क्या गलती थी. उन्होंने कहा कि फिक्सिंग से जुड़ी बातों में मेरा नाम भी उछला. मीडिया और सोशल मीडिया में ऐसे दिखाया जाने लगा मानो टीम भी शामिल हो, मैं भी शामिल हूं. क्या यह संभव है. हां, स्पॉट फिक्सिंग कोई भी कर सकता है. अंपायर, बल्लेबाज, गेंदबाज लेकिन मैच फिक्सिंग में खिलाड़ी शामिल होते हैं.
धौनी ने आगे कहा कि मैच फिक्सिंग कत्ल से भी बड़ा गुनाह है. मैं आज जो कुछ भी हूं, क्रिकेट की वजह से हूं. मेरे लिए सबसे बड़ा गुनाह कत्ल नहीं, बल्कि मैच फिक्सिंग है. लोगों को अगर लगता है कि मैच का नतीजा असाधारण इसलिए है, क्योंकि वह फिक्स है तो लोगों का क्रिकेट पर से विश्वास उठ जाएगा और मेरे लिए इससे दुखदायी कुछ नहीं होगा.  धौनी ने कहा कि उस समय मिली जुली भावनाएं थी, क्योंकि आप बहुत सी बातों को खुद पर ले लेते हैं. उन्होंने कहा कि मैं इस बारे में दूसरों से बात नहीं करना चाहता था लेकिन अंदर से यह मुझे कुरेद रहा था। मैं नहीं चाहता कि किसी भी चीज का असर मेरे खेल पर पड़े. मेरे लिए क्रिकेट सबसे अहम है.

Check Also

Pintu Gautam ( Central cricket club wA0012) cut

रामचंद्र शर्मा क्रिकेट : सेंट्रल क्लब की जीत में चमके पिंटू गौतम

लखनऊ।  मैन ऑफ द मैच पिंटू गौतम (दो विकेट, 29 रन) के हरफनमौला प्रदर्शन से सेंट्रल …

ANADI SARAN GUPTA ( DAV COLLEGE ) cut

शिवेश रंजन मजूमदार क्रिकेट: अनादि सरन ने मेगा ट्रेंड्स को दिलाई जीत

लखनऊ।  मैन ऑफ द मैच अनादि सरन गुप्ता (तीन विकेट) की अगुवाई में धारदार गेंदबाजी …

VaishnaviYadav cut

यूपी की वैष्णवी यादव ने पेंसाकोला राज्य महिला बास्केटबॉल टीम से किया करार

नयी दिल्ली: उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद की निवासी भारत की राष्ट्रीय बास्केटबॉल टीम की खिलाड़ी वैष्णवी यादव के …

IMG-20190523-WA0095

करन का शतक बेकार, अखिल इंफ्रा ने जीती रूद्रांश कप की ट्राफी

लखनऊ।  करन सिंह (131) का शतक भी यूपी टिंबर के काम न आया और अखिल …

up

यूपी सब जूनियर नेशनल हॉकी टूर्नामेंट में उपविजेता

लखनऊ: यूपी की बालक सब जूनियर हॉकी टीम ने रायपुर में हुए हॉकी इंडिया सब जूनियर …

kohli copy

मिशन वर्ल्ड कप : इंग्लैंड पहुंची टीम इंडिया, 5 जून को खेलेगी पहला मैच

ये हमारे लिए सबसे चैलेंजिंग विश्व कप होगा. भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने …