July 24, 2021

भारतीय महिला रिकर्व तीरंदाजी टीम ओलंपिक में नहीं बना सकी जगह

Share This News

टोक्यो ओलंपिक विशव कप चैंपियन भारतीय महिला रिकर्व टीम फाइनल क्वालीफायर मैच में कम रैंकिंग वाले कोलंबिया से हारकर ओलंपिक की होड़ से बाहर हुई. भारतीय महिला टीम को ओलंपिक में जगह बनाने के लिए 28 टीमों में से टॉप तीन में रहना था लेकिन वो निराशाजनक प्रदर्शन कर पाई.

विश्व रैंकिंग की तीसरे नंबर की खिलाड़ी दीपिका, अंकिता भगत और 19 वर्ष की कोमलिका बारी की तिकड़ी ने दो महीने पहले ग्वाटेमाला सिटी में विश्व कप चरण एक में गोल्ड पदक जीता था. हालांकि टीम को यहां कोलंबियाई खिलाड़ियों ने 6-0 से मात दी.

एना मारिया रेंडन, वैलेंटिया एकोस्टा गिराल्डो और मायरा सेपुलवेडा की कोलंबियाई तिकड़ी ने ‘परफेक्ट 10’ (सटीक निशाना) के दो निशाने लगाये और 55-54 से सेट जीता. दबाव में, भारतीय महिला टीम ने दूसरे सेट में 49 अंक ही बने सकी.

टीम ने इस सेट को भी दो अंकों से गंवा दिया. भारतीय टीम ने इससे पहले शानदार शुरुआत की थी, जिसमें दीपिका ने 674 का शीर्ष व्यक्तिगत स्कोर किया था.

ये भी पढ़े : महामारी से बचने व बेहतर स्वास्थ्य के लिए रोज लेनी चाहिए येाग की डोज

भारतीय महिला तीरंदाजों के पास टोक्यो में अपने सिंगल्स महिला कोटे के स्थान के साथ टीम कोटा पाने का ये आखिरी अवसर था लेकिन वो इसमें नाकाम रहे. अब दीपिका कुमारी अब ओलंपिक में महिला वर्ग में भारत की इकलौती खिलाड़ी होगी.

वो लगातार तीसरा ओलंपिक खेलने वाली है. भारत 2019 में नीदरलैंड के डेन बॉश में विश्व चैंपियनशिप से ओलंपिक के लिए पुरुष टीम कोटा पहले ही हासिल कर चूका है.


Share This News