July 28, 2021

लवजेहाद और धर्मान्तरण से बचने के लिए जागरूक होना जरूरी

Share This News

लखनऊ। अखिल भारत हिंदू महासभा की छात्र इकाई की हुयी बैठक में देश में हो रहे धर्मान्तरण और बढ़ते लवजेहाद के मामलों को लेकर चर्चा की गयी. इस चर्चा में हिस्सा लेते हिंदू महासभा के वरिष्ठ नेताओं ने एक सुर में कहा कि लवजेहाद और धर्मान्तरण से सिर्फ जागरूकता से ही बचा जा सकता है.

जागरूकता ही एक ऐसा हथियार है जो लवजेहाद और धर्मान्तरण करने वालों के इरादों पर पानी फेर सकता है. इस मौके पर मुख्य अतिथि राष्ट्रीय प्रवक्ता शिशिर चतुर्वेदी ने सीधे शब्दों में कहा कि अन्तरधर्म विवाह में कोई बुराई नहीं है, किन्तु मुस्लिम समुदाय के लोग ज्यादातर छद्म नाम से हिंदू समुदाय की लड़कियों को फंसाकर लवजिहाद का शिकार बना लेते है.

अखिल भारत हिंदू महासभा छात्र प्रकोष्ठ की बैठक आयोजित

जब तक लड़कियों को समझ में आता है कि उनका जीवन अंधकारमय हो चुका है, तो ऐसे में मजबूर होकर नारकीय जीवन जीने के लिये तैयार हो जाती है, क्योंकि हिंदू समाज इन्हें दोबारा स्वीकार नहीं करता, इसलिये ऐसी स्थितियों को सामना लड़कियों को न करने पड़े इसलिये जीवनसाथी बनाने के उद्देष्य से पहले सामने वाले की अच्छी तरह समझ लें, और इसके लिये उन्हें जागरूक होना पड़ेगा.

बैठक में धर्मान्तरण के मुद्दे पर भी वक्ताओं ने इसका पुरजोर विरोध करते हुये कहा कि केन्द्र सरकार को इस मामले में कड़ा कानून लागू करना चाहिए.  बैठक में मौजूद छात्र नेताओं ने लवजेहाद और धर्मान्तरण मुद्दों के अलावा स्कूल कालेजों द्वारा वसूली जा रही भारी भरकम फीस का मामला उठाया.

ये भी पढ़े : पीएम स्वनिधि योजना के एक साल, 6 लाख ऋण वितरण करने वाला यूपी पहला राज्य

जिस पर निर्णय लेते हुये कहा गया कि हिंदू महासभा प्रदेश सरकार पत्र भेजकर इस मामले में कड़े कदम उठाने की मांग करेगी. इससे पहले बैठक में हिस्सा लेने पहुंचे मुख्य अतिथि एवं हिंदू महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शिशिर चतुर्वेदी का माल्यार्पण कर जोरदार स्वागत किया गया.

यहां कुर्सी रोड स्थित अखिल भारत हिंदू महासभा, उत्तर प्रदेश के कैम्प कार्यालय में हुयी बैठक में पार्टी के मुख्य अतिथि राष्ट्रीय प्रवक्ता शिशिर चतुर्वेदी, प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी, कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष पंकज तिवारी, सिद्धार्थ दुबे चिकित्सा प्रकोष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष गौरव शुक्ला सहित सैकड़ों की संख्या में छात्र   प्रकोश्ठ के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता मौजूद थे.


Share This News