Breaking News
Home / स्वास्थ्य / किडनी प्रत्यारोपण में नारायण सेवा संस्थान से मिली मदद से रविन्द्र को मिला नया जीवन
1

किडनी प्रत्यारोपण में नारायण सेवा संस्थान से मिली मदद से रविन्द्र को मिला नया जीवन

1जालौन: जालौन निवासी राम प्रकाश के 23 वर्षीय पुत्र रविन्द्र सिंह दो वर्ष से अधिक समय से किडनी रोग से ग्रस्त है।एक दिन अचानक उन्हें तेज बुखार आया।  पिता ने नजदीक के अस्पताल में दिखाया जहाँ दवा देकर विश्राम के लिए कहा गया। दिन ब- दिन रविन्द्र की स्थिति बद से बदतर होती चली गयी। यह देखकर उसके माता-पिता ने जैसे तैसे पैसे की व्यवस्था कर दिल्ली के आईएलपी एस हॉस्पिटल में दिखाया जहाँ जाँच के दौरान पता चला कि रविन्द्र सिंह की दोनों किडनियां खराब हो चुकी हैं।
वहा डॉक्टरों ने बताया कि इसका एक मात्र उपचार किडनी प्रत्यारोपण है जिसका उपचार खर्च अनुमानतः 52 लाख 40 हजार रूपये है। पुत्र के ईलाज हेतु गरीब पिता ने पहले ही घर गिरवी रख छोड़ा था। परिवार पोषण के साथ इतना भारी खर्च उठाना उनके लिए संभव नही था। बीमारी के कारण रविन्द्र की प्राइवेट नौकरी भी जाती रही। रामप्रकाश को समझ नही आ रहा था कि इस विकट परिस्थिति से कैसे पार पाया जाये। राम प्रकाश को अपने एक हितैषी से नारायण सेवा संस्थान द्वारा संचालित विभिन्न निःशुल्क सेवा प्रकल्पों की जानकारी प्राप्त हुई। इस पर उन्होंने उदयपुर आकर संस्थान अध्यक्ष प्रशान्त अग्रवाल से मिलकर उन्हें रविन्द्र के गिरते स्वास्थ्य एवं अपने परिवार की कमजोर आर्थिक स्थिति से अवगत कराते हुये अपने पुत्र के ईलाज हेतु मदद का आग्रह किया। स्थिति की गम्भीरता को देखते हुए अध्यक्ष प्रशान्त अग्रवाल ने संस्थान से रविन्द्र के किडनी प्रत्यारोपण के इलाज में 5,40,000 रु की मदद की गई। इस अवसर पर नारायण सेवा संस्थान के  अध्यक्ष प्रशान्त अग्रवाल ने कहा कि हमने करीब 21 मरीजों की किडनी प्रत्यारोपण के लिए मरीजो की सहायता की है साथ में, संस्थान में हर रोज अन्य बीमारी से पीड़ित मरीजों को शिक्षा और निशुल्क आवास व भोजन व्यवस्था मुहैया भी कराते है ।

Check Also

Photo 1 cut

क्रोनिक हेपेटाईटिस संक्रमण के बढ़ रहे मामले, विश्व में भारत दूसरे स्थान पर

लखनऊ। क्रोनिक हेपेटाईटिस संक्रमणों की संख्या में चीन के बाद भारत दूसरे स्थान पर है। लगभग …

Photograph

2030 तक भारत से मलेरिया खत्म करने का संकल्प, गोदरेज का यूपी सरकार के साथ त्रिपक्षीय एमओयू

लखनऊ: गोदरेज कंज़्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड (जीसीपीएल) ने स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय, उत्तर प्रदेश सरकार, …

IMG-20190715-WA0012 copy

Waah : जटिल रीडू सर्जरी से वाल्व बदल बचायी मरीज की जान

लखनऊ। एनएबीएच व एनएबीएल मान्यता प्राप्त गोमतीनगर स्थित सहारा हास्पिटल में वाल्व की खराबी को …

photo - 1

देश में ऑफिस जाने वालों के बीच वितरित होंगे 10 लाख से अधिक ओडोमॉस

लखनऊ: भारत को डेंगू मुक्त बनाने के अपने मिशन पर आगे बढ़ते हुए डाबर ओडोमॉस …

apnia

Careful : ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया में नींद में ही रुक जाती है सांस, हो सकता है जानलेवा

लखनऊ: ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया एक ऐसी बीमारी है जो देखने में भले ही खास न …

Untitled-1 copy (1)

Life : सहारा हास्पिटल में 26 सप्ताह के प्रीमेच्योर नवजात को मिला नया जीवन

लखनऊ। एनएबीएच एवं एनएबीएल मान्यता प्राप्त सहारा हास्पिटल में जटिल बीमारी से पीड़ित जच्चा-बच्चा को …