July 29, 2021

अब 18 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों का फ्री वैक्सीनेशन : पीएम मोदी 

फोटो सोशल मीडिया

फोटो सोशल मीडिया

Share This News

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के खिलाफ वैक्सीनेशन पर जोर दिया जा रहा है. इन्ही हालात में भारत में चल रही वैक्सीनेशन पालिसी में बड़ा बदलाव किया गया है. इस बात की जानकारी  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम अपने संबोधन में दी. वैसे कई  राज्यों में अभी भी लॉकडाउन चल रहा है तो कई राज्यों में ढील का दौर चल रहा है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी वैक्सीनेशन पालिसी में इन बदलाव की जानकारी

फोटो सोशल मीडिया
फोटो सोशल मीडिया

इन हालत में पीएम मोदी ने सोमवार शाम को बड़ा ऐलान किया कि 18 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों को कोरोना की वैक्सीन मुफ्त लगेगी.   वही सरकार ने फैसला लिया कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना अब दीपावली तक लागू रहेगी.

15 महीने के कोरोना काल में यह पीएम का 9वां संदेश है जिसमें पीएम मोदी ने ये भी बोला कि ये फैसला लिया कि राज्यों की  वैक्सीनेशन की 25 प्रतिशत  जिम्मेदारी का भी अब केंद्र सरकार वहन करेगी. पीएम ने बोला कि देश में करोड़ों लोगों को मुफ्त वैक्सीन मिली है और 18 साल की उम्र के लोगों को भी इसका लाभ मिलेगा.

 राज्यों की वैक्सीनेशन की 25 प्रतिशत जिम्मेदारी का भी अब केंद्र सरकार देखेगी

यानि  सभी देशवासियों को भारत सरकार मुफ्त वैक्सीन देगी. वही  देश में बन रही वैक्सीन का 25  फीसदी प्राइवेट  अस्पताल को देने की व्यवस्था लागू रहेगी.  इसके लिए निजी अस्पताल वैक्सीन की एक डोज की निर्धारित कीमत का अधिकतम 150 रुपए सर्विस चार्ज ले सकेंगे और वैक्सीनेशन की निगरानी का काम राज्य सरकारों के जिम्मे रहेगा.

देश को जल्द मिलेगी 500 रुपये में दो डोज, सबसे सस्ती कोरोना वैक्सीन 

वही वैक्सीन निर्माताओं से कुल वैक्सीन उत्पादन का 75 फीसदी  हिस्सा भारत सरकार खुद ही खरीदकर राज्य सरकारों को मुफ्त देगी,  पीएम मोदी ने कहा कि किसी भी राज्य की सरकार को वैक्सीन पर कुछ भी खर्च नहीं देना होगा.

पीएम मोदी बोले कि राज्यों के पास वैक्सीनेशन से जुड़ा जो 25 फीसदी काम था, वो भी भारत सरकार  देखेगी और ये व्यवस्था अगले 2 सप्ताह में लागू होगी. इस बीच केंद्र और राज्य सरकारों की नई गाइडलाइंस के अनुसार आवश्यक तैयारी हो जाएगी. वही 21 जून यानि योग दिवस से राज्य में, 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगो के लिए, भारत सरकार राज्यों को मुफ्त वैक्सीन देगी.

 प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना दीपावली तक रहेगी लागू, 80 करोड़ लोगों को होगा फायदा

इसके साथ सरकार ने ये भी जानकारी दी कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना अब दीपावली तक लागू रहेगी. उन्होंने बोला कि इस महामारी काल में, सरकार गरीब की हर जरूरत के साथ उसकी साथी है. अब नवंबर तक 80 करोड़ से ज्यादा  देशवासियों को हर माह तय मात्रा में मुफ्त अनाज मिलेगा.

वैक्सीन को लेकर अफवाहें फ़ैलाने वालो से किया आगाह

इसके साथ उन्होंने  वैक्सीन को लेकर  अफवाहें फ़ैलाने वालो से आगाह किया. उन्होंने बोला कि वैक्सीनेशन को लेकर अफवाह फ़ैलाने वाले भोले-भाले भाई-बहनों की जिंदगी से काफी  बड़ा खिलवाड़ कर रहे हैं और इससे सतर्क रहने की दरकार है.

इसके साथ मोदी ये भी बोले कि कोरोना की दूसरी लहर से देश की लड़ाई चल रही और और कई देशों की तरह भारत ने भी बहुत तकलीफ झेली है और कई लोगों ने अपने परिजनों को खोया है और ऐसे सभी परिवारों के साथ मेरी संवेदनाए हैं.

वैक्सीनेशन में प्राथमिकता पर सवाल करने वालो पर तंज

मोदी ने इसके साथ ये भी बोला कि राज्यों से सुझावों के आधार पर तय हुआ कोरोना से जिन्हें ज्यादा खतरा है, उन्हें प्राथमिकता मिलेगी और  फ्रंट लाइन वर्कर्स, हेल्थ वर्कर्स, 60 और 45 साल से ऊपर के नागरिकों को पहले वैक्सीन लगी. वही कोरोना की दूसरी लहर से  पहले फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन न लगी होती तो क्या होता?’ अस्पतालों के सफाई कर्मियों, एंबुलेंस के ड्राइवर को वैक्सीन न लगती तो क्या होता?

मोदी इस बार ये भी बोले कि कि 16 जनवरी से अप्रैल के अंत तक वैक्सीन कार्यक्रम केंद्र की देखरेख में हो रहा था.  इसी बीच कई राज्यों ने वैक्सीन का काम राज्यों को देने की मांग की.

इसके साथ ये भी बोले कि  उम्र की सीमा केंद्र ने क्यों तय की और बुजुर्गों के पहले वैक्सीनेशन  पर भी सवाल किया. इसके बाद वैक्सीनेशन का 25 फीसदी काम राज्यों को दिया गया लेकिन  मई के दूसरे सप्ताह आते-आते राज्य पहली वाली व्यवस्था को अच्छा कहने लगे.

अभी कोरोना गया नहीं, हमें नियमों को सख्ती से मानना होगा

इसके साथ प्रधानमंत्री ये भी बोले कि कोरोना के केस कम होने पर लॉकडाउन पर फैसले का अधिकार राज्यों को देने की बात की गयी. ये भी बोला गया कि स्वास्थ्य राज्य का विषय है. हमने एक गाइडलाइन  राज्यों को दी ताकि वे अपनी सुविधा के अनुसार काम कर सकें और इसके अनुसार काम हो रहा है. हालांकि अभी कोरोना गया नहीं है. अब हमें सावधान रहने और बचाव के नियमों को सख्ती से मानना होगा.

भारत में विदेशी कोरोना वैक्सीन की लोकल स्टडी की बाध्यता हटी 


Share This News