Breaking News
Home / विदेश / ओफ्फोह: 14 साल कोमा में रही महिला ने दिया बच्चे को जनम
new born

ओफ्फोह: 14 साल कोमा में रही महिला ने दिया बच्चे को जनम

new bornअमेरिका। करीब 14 साल से कोमा में रहने वाली महिला ने बच्चे को जन्म दिया है जिसके बाद अमेरिका के अरिजोना में हड़कंप मच गया जिसके बाद पुलिस ने महिला से यौन उत्पीड़न की आशंका में मामले की जांच शुरू कर दी है. जिस हॉस्पिटल की यह बात है वो पहले ही अपने स्टाफ के मरीजों से अभद्रता और बदसलूकी के चलते खासा चर्चित रहा है जिसके चलते दिसंबर 2013 में इसकी फंडिंग भी रोक दी गई थी.

हालांकि इस मामले में महिला का दिन में कई बार चेकअप होता था लेकिन बच्चे के जन्म से पहले अस्पताल के स्टाफ को  नहीं पता था कि महिला गर्भवती है. इस महिका ने अमेरिका के फीनिक्स एरिजोना में 29 दिसंबर 2018 को स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया. हालांकि सवालिया निशान यह भी है कि कैसे 14 साल से कोमा में रहने वाली महिला बच्चे को जन्म दे सकती है. हालांकि नर्सिंग फैसिलिटी के अधिकारियों ने कुछ भी बोलने से इन्कार कर दिया है. दूसरी ओर पुलिस जहा बच्चे के पिता का पता लगाने की कोशिश कर रही है तो अधिकारियों ने महिला के यौन शोषण की भी जांच शुरू कर दी है.

इस मामले के बाद हेल्थ केयर सेंटर ने नियमों में बदलाव किए है जिसके मुताबिक चेकअप के दौरान पुरुष स्टाफ के साथ अब महिला चिकित्साकर्मी भी रहेंगी. स्टाफ की संख्या बढ़ाने के साथ मरीजों की सुरक्षा का भी ध्यान रखा जाएगा. सेंटर के प्रवक्ता ने कहा कि नए नियम एरिजोना डिपार्टमेंट ऑफ हेल्थ सर्विसेस की ओर से लागू करवाए हैं.

बताते चले कि 14 साल पहले महिला के मां-बाप की पानी में डूबने से मौत हो गई थी, जिससे उसे गहरा सदमा लगा और वह कोमा में चली गई थी जिसके बाद उसे 24 घंटे देखभाल की जरूरत है. महिला नर्सिंग फैसिलिटी में पिछले कई सालों से भर्ती थी जहां इसका इलाज चल रहा था जबकि इलाज के दौरान कई लोग महिला के कमरे में आते-जाते थे.

Check Also

miss

फिलीपींस की कैटरिओना ग्रे ने पहना विश्व सुंदरी का ताज

बैंकाक। फिलीपींस की कैटरिओना ग्रे ने 67 वें मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता में सबको पछाड़ते हुए विश्व …

new indian cureency

अब नेपाल में 100 रुपए तक के भारतीय नोट ही होंगे मान्य

काठमांडू। दो साल से बिना रोक-टोक नेपाल में चल रहे नए भारतीय नोट अब वहा चलन में …

WhatsApp Image 2018-11-24 at 7.15.36 PM

ख़्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती उर्दू, अरबी-फारसी विश्वविद्यालय के कुलपति ने ईरान में इंटरनेशनल संगोष्ठी में की शिरकत

तेहरान: ख़्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती उर्दू,अरबी-फारसी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.माहरूख़ मिर्ज़ा ने ईरान दौरे पर  शनिवार को …

WhatsApp Image 2018-11-23 at 6.28.18 PM

उर्दू, अरबी-फारसी विश्वविद्यालय के कुलपति ईरान दौरे पर 

लखनऊः ख़्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती उर्दू, अरबी-फारसी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.माहरूख मिर्ज़ा ईरान दौरे पर पहुँच …

IMG-20181107-WA0140

प्राकृतिक सुगंधित सामग्रियों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए गुणवत्ता मानकों को विकसित करने में मिलेगी मदद

लखनऊ: सुगंधित सामग्रियों की गुणवत्ता की जांच के मानकों के लिए अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्द इन्स्टिट्यूट फॉर …

jamal khasogi

तुर्की के सऊदी दूतावास में ही हुई थी जमाल खाशोगी की हत्या, शरीर को काटकर पांच सूटकेसों में रख किया था गायब

 अंकारा। पत्रकार एवं सऊदी अरब के युवराज मोहम्मद बिन सलमान के आलोचक जमाल खाशोगी की गत …