July 29, 2021

लोग नियम नहीं रहे मान, हिल स्टेशन पर भीड़ को लेकर पीएम दिखे चिंतित 

फाइल फोटो सोशल मीडिया

फाइल फोटो सोशल मीडिया

Share This News

नई दिल्ली। देश में कोरोना की दूसरी लहर की स्पीड थमती दिख रही है और सरकार ढील भी दे रही है लेकिन लोग लापरवाह हो गए है और नियमो की धज्जियां उड़ा रहे है. इसे ऐसे समझ सकते है कि  हिल स्टेशन व पर्यटन स्थलों पर लगातार भीड़ जुट रही है.

ये हाल तब है जब एक्सपर्ट ने कोरोना की तीसरी लहर की भविष्यवाणी तक की है और सरकार बार-बार लोगों को सतर्क रहने की अपील कर रही है कि कोई  लापावाही न करे. इन हालत पर पीएम मोदी ने सोमवार को पूर्वोत्तर राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ कोरोना पर समीक्षा बैठक  में चिंता जताई.

फाइल फोटो सोशल मीडिया
फाइल फोटो सोशल मीडिया

बैठक में पीएम मोदी ने एक बार फिर कोरोना के खतरे के बारे में बोला कि  अब हमें हमें पहले से अधिक सतर्क रहने के साथ माइक्रोकंटेनमेंट जोन बनाने होंगे और जिम्मेदारी भी तय करनी होगी.

ये भी पढ़े : मोदी सरकार किसानों को ऐसे देगी एक लाख करोड़ रुपये का लाभ

उन्होंने बैठक में टीकाकरण के महत्व के बारे में बात की और बोला कि केंद्र सरकार के ‘सबको वैक्सीन-मुफ्त वैक्सीन’ अभियान की नॉर्थ ईस्ट में भी उतनी ही अहमियत है और तीसरी लहर को देखते हुए वैक्सीनेशन ड्राइव को तेज़ करते रहना होगा. पीएम मोदी ने बोला कि कोरोना वायरस के  म्यूटेंट से हमें सावधान करना होगा और हमें इसके सभी वेरिएंट की निगरानी होगी और रोकथाम और इलाज पर ध्यान देना होगा.

उन्होंने ये भी कहा कि म्यूटेशन के बाद होने वाले बदलाव के लिए एक्सपर्ट्स लगातार स्टडी कर रहे हैं. उन्होंने बोला कि कोरोना के असर  से टूरिज्म, व्यापार और कारोबार पर बहुत बुरा आसार पड़ा है. मेरा ये भी कहना है कि हिल स्टेशंस में, मार्केट्स में बिना मास्क पहने जाना और भारी भीड़ का आना बिलकुल भी ठीक नहीं है.

पूर्वोत्तर के राज्यों में एक्टिव केस

  • असम: 19594
  • मणिपुर: 7520
  • मिजोरम: 4336
  • मेघालय :4110
  • त्रिपुरा: 4100
  • अरुणाचल प्रदेश: 3918
  •  सिक्किम: 2225
  •  नगालैंड: 959

Share This News