July 24, 2021

बाजारों, रेलवे स्टेशनों, बस अड्डों पर होगा नियमित सैनिटाइजेशन : आशुतोष टंडन

Share This News

लखनऊ: नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने बुधवार को कोविड-19 के दृष्टिगत प्रदेश के अयोध्या, बस्ती, गोरखपुर मण्डल के 12 जिलों (अयोध्या, अम्बेडकर नगर, सुल्तानपुर, बाराबंकी, अमेठी, बस्ती, सन्तकबीर नगर, सिद्धार्थ नगर, गोरखपुर, कुशीनगर, महराजगंज, देवरिया) की 77 नगर पंचायतों के अध्यक्ष एवं अधिशासी अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की.

अधिशासी अधिकारी प्रतिदिन निगरानी समिति के किट वितरण व कार्यों की रेगुलर भेजेंगे रिपोर्ट

उन्होंने कहा कि निगरानी समिति प्रवासियों का पूरा ब्योरा बनाकर रिपोर्ट प्रतिदिन भेजेंगे, ट्रेसिंग के दौरान किसी व्यक्ति के कोरोना संदिग्ध होने पर उसकी जांच करवाई जाए और उनकी आइसोलेशन की सुविधा सुनिश्चित की जाये और उन्हें मेडिसिन किट भी दी जाए जिससे लोगों को कोरोना के प्रति जागरुकता हो. साथ ही निगरानी समिति के किट वितरण व कार्यों की रेगुलर रिपोर्ट अधिशासी अधिकारी प्रतिदिन भेजेंगे.

संदिग्ध मरीजों की जांच कराए निगरानी समिति: नगर विकास मंत्री

आशुतोष टंडन जी ने कहा कि कंटेनमेंट जोन में सुबह शाम सैनिटाइजेशन करवया जाए। गली-मोहल्लों व वार्डों में व्यापक सैनिटाइजेशन करवाया जाए. साथ ही बजारों, रेलवे स्टेशनों, बस अड्डों व अन्य जगहों पर अभियान चलाकर सैनिटाइज करवाया जाये जिससे कोरोना की लड़ाई जीती जा सके. नगर पंचायतों में निकलने वाले कूड़े का उचित निस्तारण करें और गार्बेज मुक्त पंचायत बनाए जाने पर जोर दें.

कंटेनमेंट जोन के कूड़ा का निस्तारण कोरोना प्रोटोकॉल के साथ करवाएं. निगरानी समिति प्रवासियों का पूरा ब्योरा बनाकर रिपोर्ट प्रतिदिन भेजे, ट्रेसिंग के दौरान किसी व्यक्ति के कोरोना संदिग्ध होने पर उसकी जांच करवाई जाए और उनकी आइसोलेशन की सुविधा सुनिश्चित की जाये. साथ ही निगरानी समिति उन्हें समय पर मेडिसिन किट भी मुहैया कराए.

शुद्ध पेयजल के मेंटेन्स का काम युद्ध स्तर पर हो : आशुतोष टंडन

नगर विकास मंत्री ने कहा कि निर्देशित किया कि नदियों में बहने वाले शवों को लेकर अध्यक्षों की अध्यक्षता में जो समिति बनाई गई है वे निगरानी करें और शव पाये जाने पर अंत्येष्टि करवाई जाये और शुद्ध पेयजल के मेंटेनेंस आदि के लिए युद्ध स्तर पर व्यवस्था हो.

नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने समीक्षा बैठक में कप्तानगंज (कुशीनगर) नगरीय निकाय में सैनिटाइजेशन व अन्य कार्य न होने पर नगरीय निकाय निदेशालय की निदेशक श्रीमती शकुन्तला गौतम को स्पष्टीकरण मांगने को निर्देशित किया है. वहीं जिम्मेदार व्यक्ति पर कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिए.

शासनादेश के प्रारूप अनुसार भेजी जाए दैनिक रिपोर्ट

आशुतोष टंडन  ने कहा कि जिन नगर पंचायतों से सफाई, सैनिटाइजेशन, वैक्सीनेशन डोज, अपशिष्ट का निस्तारण किया व अन्य कार्य जो किए जा रहे हैं, इन कार्यों में कितने वाहन लगाये गए हैं. इन सभी की दैनिक रिपोर्ट शासनादेश के प्रारूप के अनुसार भेजनी है.

होम आइसोलेशन वालों को देगी मेडिसिन किट, घर-घर स्क्रीनिंग करेगी निगरानी समिति

कंटेनमेंट जोन व विसंक्रमित किए गए क्षेत्रों की रिपोर्ट सही तरह से भेजी जाए. इसके अलावा उन्होंने सैनिटाइजेशन, फागिंग, कूड़ा उठान, वैक्सीनेशन व निगरानी समिति, पेयजल आपूर्ति की समस्याओं के निस्तारण व निगरानी समिति को दिए जाने वाले उपकरणों की समीक्षा करते हुए उचित दिशा निर्देश भी दिए.

नगर पंचायतों के अधिकारियों संग मंत्री जी ने विस्तार से की चर्चा

मंत्री ने अमेठी (अमेठी) की अध्यक्ष श्रीमती चन्द्रमा देवी, रामनगर (बाराबंकी) के अध्यक्ष बद्री विशाल त्रिपाठी, कोइरीपुर (सुल्तानपुर) के अध्यक्ष सुधीर साहू, लार (देवरिया) की अध्यक्ष श्रीमती सरोज देवी, पिपराइच (गोरखपुर) के अध्यक्ष जितेन्द्र कुमार जायसवाल, कप्तानगंज (कुशीनगर) की अध्यक्ष श्रीमती आभा गुप्ता, आनन्दनगर (महराजगंज) के अध्यक्ष राजेश जायसवाल, मगहर (संतकबीरनगर) की अध्यक्ष श्रीमती संगीता वर्मा, शोहरतगढ़ (सिद्धार्थनगर) की अध्यक्ष श्रीमती बबिता कसौधन, बनकटी (बस्ती) नगर पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती वेदकला समेत 10 मा. अध्यक्ष एवं अधिशाषी अधिकारियों से बिन्दुवार चर्चा की।

वर्चुअल बैठक में अपर मुख्य सचिव नगर विकास विभाग रजनीश दुबे, नगरीय निकाय निदेशालय की निदेशक श्रीमती शकुन्तला गौतम, विशेष सचिव नगर विकास विभाग श्री इंद्रमणि त्रिपाठी समेत अयोध्या, बस्ती, गोरखपुर मण्डल की 77 नगर पंचायतों के मा. अध्यक्ष एवं अधिशाषी अधिकारी (ईओ) जुड़े रहे.


Share This News