July 24, 2021

माल्या, नीरव मोदी, चोकसी की संपत्तियों से अब तक 13,100 करोड़ रुपए वसूली 

फाइल फोटो सोशल मीडिया

फाइल फोटो सोशल मीडिया

Share This News

नई दिल्ली :  देश के सबसे बड़े ऋणदाता, भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के नेतृत्व में एक संघ ने भगोड़े व्यवसायी विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के शेयरों को बेच कर  792.11 करोड़ रुपये की वसूली की. ये जानकारी प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार को दी.
इस केंद्रीय एजेंसी ने प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत संपत्तियों को जब्त कर लिया है.

ईडी ने ये रकम को बैंकों के कंसोर्टियम को सौंप दी. एक आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक संपत्ति की बिक्री से अब कुल 13,109.17 करोड़ रुपए वसूले जा चुके है. वैसे बंद हो चुकी किंगफिशर एयरलाइंस के मालिक माल्या पर विभिन्न बैंकों का 9,000 करोड़ रुपये से ज्यादा बकाया है. दूसरी और हीरा कारोबारी नीरव मोदी व मेहुल चोकसी (पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ऋण धोखाधड़ी मामले में मुख्य आरोपी) के खिलाफ 13,000 करोड़ रुपए का नुकसान पहुंचाने का आरोप है.

फाइल फोटो सोशल मीडिया
फाइल फोटो सोशल मीडिया

वैसे पीएनबी बनाम नीरव मोदी मामले में भगोड़ा आर्थिक अपराध न्यायालय ने बैंकों को ₹1,060 करोड़ की संपत्ति की अनुमति दी है और ईडी ने भगोड़े आर्थिक अपराधी अधिनियम के प्रावधानों के तहत 329.67 करोड़  रुपए जब्त किए हैं. वही 1 जुलाई, 2021 को नीरव मोदी की बहन पूर्वी मोदी ने अपने विदेशी बैंक खाते से ईडी को अपराध की आय से ₹17.25 करोड़ हस्तांतरित किए.

ये भी पढ़े : कोरोना की तीसरी लहर दे रही दस्तक, पूरी तरह रहना होगा सतर्क : पीएम मोदी

इससे कुछ दिन पहले ईडी ने 3,728.64 करोड़  रुपए की संपत्ति एसबीआई के नेतृत्व वाले कंसोर्टियम को दी थी, जिसमें 3,644.74 करोड़ के शेयर, 54.33 करोड़ का डिमांड ड्राफ्ट और 29.57 करोड़ रुपये की अचल संपत्तियां हैं.

वैसे माल्या, नीरव मोदी और चोकसी ने विभिन्न सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को अपनी कंपनियों  से धन की हेराफेरी करके धोखा दिया था, जिससे बैंकों को कुल 22,585.83 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था.  वैसे माल्या के प्रत्यर्पण को वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट ने मंजूरी  दी जिसकी ब्रिटेन के उच्च न्यायालय ने पुष्टि की  है.

माल्या को ब्रिटेन के सुप्रीम कोर्ट में अपील करने की मंजूरी  नहीं मिली  है और वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट ने नीरव मोदी को  भारत प्रत्यर्पण का आदेश दिया है. वही  चोकसी के खिलाफ एंटीगुआ में प्रत्यर्पण कार्यवाही हो रही है. वो  23 मई को एंटीगुआ से लापता होने के बाद डोमिनिका में मिला था.


Share This News