Breaking News
Home / इंटरव्यू / समाज का गौरव : विनोद कुमार शुक्ला रिटायरमेंट के बाद बने एक मिसाल
vinod shukla

समाज का गौरव : विनोद कुमार शुक्ला रिटायरमेंट के बाद बने एक मिसाल

विशाल सिंह( फ़ूड मैन) की कलम से 
vinod shukla 2समाज के वरिष्ठ जनों के कल्याण एवम उनकी समस्याओं के निदान के लिए काम और सेवा परमो धर्म के विचार को आगे बढ़ाते हुए निस्वार्थ काम करना, ये शख्स है 77 वर्ष के विनोद कुमार शुक्ला जी जो गत 19 वर्षों से वरिष्ठ जनों के कल्याण में कार्य करते हुए हम सब के प्रेरणा स्तोत्र बन गए हैं.  वर्ष 2000 में यूपी पॉवर कॉर्पोरेशन विभाग के   मुख्य महाप्रबंधक के पद से रिटायर होने के बाद से अपना लक्ष्य बना लिया है. इन्होने रिटायरमेंट के बाद अपने को समाज के लिए कुछ नया कार्य करने की कोशिश में अपने आप को सामाजिक दायित्वों के प्रति पूर्ण रूप से समर्पित कर लिया. समाज के वरिष्ठ जनों के कल्याण और उनकी समस्याओं के निदान के लिए भारतीय वरिष्ठ नागरिक समिति (भावना) का गठन किया. वर्तमान में इस समिति में समाज के विभिन्न वर्गों के 950 से अधिक सदस्य हैं.
भारतीय वरिष्ठ नागरिक समिति के माध्यम से वरिष्ठ नागरिकों को दे रहे सोशल और इमोशनल स्पोर्ट
vinod shukla 3इस समिति द्वारा वरिष्ठ नागरिकों को सोशल और इमोशनल स्पोर्ट प्रदान किया जाता है और सदस्यों के लिए समय-समय पर मनोरंजक और सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये जाते है. इसी के साथ वरिष्ठजनों की चिकित्सा समस्याओं के समाधान के लिए कुछ अस्पतालों से अनुबंध किये गए है जहां बहुत कम खर्च पर स्पेशलिस्ट डॉक्टरों द्वारा इलाज किया जाता है. समिति के द्वारा कक्षा 12 तक के गरीब छात्रों को स्कॉलरशिप दी जाती है. सर्दियों में गरीब लोगों को कम्बल और वस्त्र दिए जाते है. स्ट्रीट चिल्ड्रन को अनौपचारिक शिक्षा का कार्यक्रम भी चलाया जा रहा है.
अस्पतालों में तीमारदारों को दोपहर का भोजन प्रसादम सेवा में, कक्षा 12 तक के गरीब छात्रों को देते है स्कॉलरशिप
vinod shukla 1वही शहर के कुछ अस्पतालों में गरीब मरीजों के तीमारदारों को दोपहर का भोजन प्रसादम सेवा के अंतर्गत उपलब्ध कराया जा रहा है. समिति द्वारा अन्य संस्थाओं से मिल कर शासन से समन्वय कर वरिष्ठ नागरिकों के लिए नीतियां तैयार कराने में सहयोग किया जाता है. पाठकों जब कभी आप विनोद कुमार शुक्ला जी से मुलाकात करेंगे तो आपको उनकी कार्यप्रणाली को देखकर उनकी उम्र का पता नहीं लगा सकते कि आज वह 77 वर्ष की उम्र में रोज सुबह उठकर अपनी संस्था के काम मे जुट जाते हैं.  आज आपके संगठन से हजारों लोग जोड़कर सेवा परमो धर्म के विचार को आगे बढ़ाने का प्रयास कर रहे है.
कार्यप्रणाली को देखकर नहीं पता चलता उम्र का, 19 साल से जारी है सेवा मिशन
vinod shuklaआज इस संगठन में बड़े बड़े अधिकारी, न्यायधीश ,आईएएस व्यापारी एवं कई सामाजिक  संस्थाएं भी जोड़कर श्री शुक्ला जी के कुशल नेतृत्व एवम मार्गदर्शन में सेवा के नित नए आयाम प्रस्तुत कर रही है. इस बारे में विनोद कुमार शुक्ला जी का कहना है इस संगठन भारतीय वरिष्ठ नागरिक समिति (भावना) – से जुड़े सभी लोग आपस मे एक दूसरे की सहायता कर एवम संस्था के कार्यों में सहयोग कर एकाकी जीवन से मुक्ति पा सकते है एवम समाज के प्रति अपने दायित्व का निर्वहन कर सकते हैं. आप भी भारतीय वरिष्ठ नागरिक समिति से जुड़ जरूरत मन्दो की मदद कर करने के इस पुनीत सेवा मिशन में आनंद की अनुभूति प्राप्त कर सकते है ।  विगत 19 वर्षों से वरिष्ठ जनों के कल्याण में लगे श्री विनोद कुमार शुक्ला जी (मोबाइल नंबर 9335902137) सभी के लिए प्रेरणा स्तोत्र हैं, आप के सेवाभाव को हमारा सलाम ।
(समाज हेतु सार्थक प्रयास करने वाले साथियो को सलाम)

Check Also

Photo Trauma 1

Jankiipuram : भूमि की रजिस्ट्री भी नहीं हुई लेकिन हो गया शिलान्यास और बजट आवंटन

लखनऊ। जानकीपुरम विस्तार में बनने वाले ट्रामा सेन्टर को लेकर चौंकाने वाले तथ्य सामने आये …

chess1ok

Speed : चलती मेट्रो के हिचकोले, शह और मात की जंग कितनी मुश्किल, कितना आसान

आदित्य श्रीवास्तव लखनऊ। यूं तो शतरंज का खेल दिमाग तेज करने के लिए खेला जाता …

IMG-1151-1

वाह : अब साल भर खाने को मिलेगी आम की आइसक्रीम

लखनऊ: केंद्रीय उपोष्ण बागवानी संस्थान द्वारा 22 जून से आयोजित आम महोत्सव में 25 किस्मों की आइसक्रीम आम महोत्सव में …

CRICKET-WC-2019-IND-PAK

पाक के खिलाफ मैच में रोहित शर्मा के नाम हुए कई रिकॉर्ड

नई दिल्ली : सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने रविवार को आईसीसी विश्वकप में पाकिस्तान के खिलाफ …

alka sharma okcut

समाज का गौरव : ख़ुशी के पलों को साझा करके श्रीमती अलका शर्मा ने पेश की मिसाल

विशाल सिंह फूडमैन की कलम से  यू तो लोग अपना जन्मदिन और अन्य शुभ उत्सवों …

bbbb

वाह! सड़क पर रहने वाले बच्चों ने क्रिकेट पिच पर दिखाया खूब जलवा

लखनऊ। सड़क पर रहने वाले बच्चों के चेहरे पर गुरूवार को खुशी दौड़ रही थी …