July 25, 2021

भविष्य में राजनीति में नहीं आएंगे सुपरस्टार रजनीकांत

दक्षिण सिनेमा के दिग्गज सुपरस्टार रजनीकांत

दक्षिण सिनेमा के दिग्गज सुपरस्टार रजनीकांत

Share This News

दक्षिण सिनेमा के दिग्गज सुपरस्टार रजनीकांत की फैन फॉलोइंग अच्छी खासी है. इसके चलते उनसे जुड़ी किसी भी चीज की जानकारी हर फैन्स रखना चाहता है.

दक्षिण ही नहीं बल्कि पूरे भारत के लोग उन्हें काफी प्यार करते हैं. वो जब घर से बाहर निकलते हैं तो उनसे मिलने के लिए लोगों का तांता लगा रहता है. रजनीकांत ने सोमवार को अपनी राजनीतिक जीवन से जुड़ा एक अहम फैसला लिया है.

रजनीकांत ने अपनी पार्टी रजनी मक्कल मंदरम के पदाधिकारियों से बातचीत कर इस बात का फैसला लिया. रजनीकांत ने इस बातचीत के दौरान बोला है कि भविष्य में उनकी अब राजनीति में आने की कोई योजना नहीं है.

एक समाचार एजेंसी के अनुसार, रजनीकांत ने रजनी मक्कल मंदराम पार्टी को भंग करते हुए अब कभी भी राजनीति में नहीं आने की घोषणा की है. साथ ही रजनीकांत ने अपने आधिकारिक ट्विटर पर इसकी जानकारी दी है.

हालांकि, रजनीकांत ने जिस पार्टी को भंग किया है, उसके कार्यकर्ता अब भी जनता के लिए काम करेंगे. लेकिन अब इनकी पार्टी का एक नया नाम होगा. पार्टी खत्म करने के बाद रजनीकांत ने बोला कि संगठन अब ‘रजनी रसीगर नरपानी मंदराम’ के नाम से जनता के लिए काम करेगी.

लंबे टाइम से रजनीकांत के राजनीति में आने की चर्चाएं जोरों पर थी. लेकिन अब रजनीकांत के इस बयान ने इन सभी चर्चाओं पर विराम लगा दिया है. हालांकि, इससे पहले दिसंबर, 2020 में भी रजनीकांत ने राजनीति में ना आने का ऐलान किया था.

ये भी पढ़े :  फरहान की फिल्म तूफ़ान के बायकॉट की उठी मांग, लगा ये आरोप

इसके बाद उन्होंने फिर पॉलिटिक्स में एंट्री की ओर अपनी दिलचस्पी दिखाई थी. ऐसी उम्मीद गई थी कि रजनीकांत जल्द ही चुनाव के मैदान में उतर सकते हैं. स्वास्थ्य कारणों के चलते रजनीकांत ने अंतिम बार राजनीति में नहीं आने का फैसला किया था.

कोरोना में एक फिल्म की शूटिंग के दौरान भी रजनीकांत की हालत खराब हो गई थी. यहां तक कि उनके साथ काम करने वाले कई लोग कोरोना की चपेट में आये थे. इससे पहले 2016 में उनका किडनी ट्रांसप्लांट किया गया था. रजनीकांत पिछले कुछ टाइम से लगातार स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से गुजरते रहे हैं.


Share This News