July 24, 2021

कांवड़ यात्रा को मंजूरी पर यूपी और केंद्र सरकार को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

फाइल फोटो सोशल मीडिया

फाइल फोटो सोशल मीडिया

Share This News

नई दिल्ली: कोरोना संकट के बीच  एक ओर उत्तराखंड में  कांवड़ यात्रा को मंजूरी नहीं दी गयी थी तो दूसरी पर यूपी सरकार कांवड़ यात्रा के आयोजन की तैयारी कर रही है. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लेते हुए यूपी और केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है. शीर्ष अदालत अब इस मामले में  शुक्रवार को सुनवाई करेगी. जस्टिस आर.एफ नरीमन की बेंच ने 16 जुलाई की तारीख दी है.

जस्टिस आर.एफ. नरीमन ने सुनवाई के दौरान बोला कि यूपी सरकार कांवड़ यात्रा को अनुमति दे दे रही है, जबकि उत्तराखंड सरकार ने इस पर रोक लगा रखी है.  बेंच के अनुसार एक ओर पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना से बचाव के लिए सख्ती बरतने को बात की जबकि यूपी सरकार कांवड़ यात्रा को मंजूरी दे रही है.

फाइल फोटो सोशल मीडिया
फाइल फोटो सोशल मीडिया

शीर्ष अदालत ने यूपी, उत्तराखंड और केंद्र सरकार से मामले पर शुक्रवार सुबह तक जवाब मांगते हुए बोला कि 25 जुलाई से कांवड़ यात्रा शुरू होने पर ऐसे अहम मुद्दे पर जल्द सुनवाई जरूरी है. वैसे  यूपी सरकार ने कुछ पाबंदियों के साथ राज्य में कांवड़ यात्रा को अनुमति दी है जबकि उत्तराखंड सरकार ने काफी कशमकश के बाद मंगलवार को कांवड़ यात्रा रोक लगा दी थी.

ये भी पढ़े : लोग नियम नहीं रहे मान, हिल स्टेशन पर भीड़ को लेकर पीएम दिखे चिंतित 

ये भी पढ़े : 2030 में चांद के ऑर्बिट में होगा बदलाव, हर माह आएगी भयानक बाढ़ 

सीएम पुष्कर सिंह धामी के अनुसार कांवड़ यात्रा से अहम लोगों की जानें बचाना है जिसके चलते लगातार दूसरी बार कांवड़ यात्रा रद्द करने का फैसला लिया. वैसे आईएमए की उत्तराखंड यूनिट ने भी कांवड़ यात्रा का विरोध करते हुए सरकार से अपील की थी कि कोरोना की तीसरी लहर को रोकने के लिए कांवड़ यात्रा को परमिशन नहीं दी जाए.


Share This News