July 24, 2021

भारत से बाहर खेला जाएगा टी-20 वर्ल्ड कप, जल्द शुरू होगी तैयारी

Share This News

नई दिल्ली : अक्टूबर-नवम्बर में भारत में टी-20 वर्ल्डकप खेला जाना है. भारत में मौजूदा कोरोना के हालातों के चलते इस टूर्नामेंट की भारत मेजबानी पर संशय जारी है. टी-20 वर्ल्डकप का भारत से बाहर खेला जाना तय है. देश में कोरोना के हालातों के मद्देनजर बीसीसीआई ने आईसीसी को तैयारी शुरू करने की आंतरिक सूचना दी है.

1 जून को हुई आईसीसी बैठक में बीसीसीआई को टी-20 विश्वकप पर फैसला लेने के लिए 28 जून तक का टाइम मिला था. बीसीसीआई आईपीएल 2021 के बचे हुए मुकाबलों को पहले ही यूएई में शिफ्ट किया है.

आईसीसी बोर्ड में इस घटनाक्रम से अवगत बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर एक समाचार एजेंसी को बोला कि, हां, बीसीसीआई ने आईसीसी बोर्ड की मीटिंग के दौरान औपचारिक रूप से आखिरी फैसला लेने के लिए चार सप्ताह का समय मांगा है.

आईओए ऑफिस खोलने के लिए नरिंदर बत्रा ने लिखा दिल्ली के सीएम को लेटर

आंतरिक रूप से उन्होंने बोला है कि वे मेजबानी के अधिकार रखना चाहेंगे और टूर्नामेंट के यूएई तथा ओमान में मेजबानी पर कोई आपत्ति नहीं होगी. उन्होंने बोला कि 16 टीम की प्रतियोगिता के प्रारंभिक दौर के मुकाबलों के लिए मस्कट को विशेष रूप से मेजबान के तौर पर रखा गया है. इससे आईपीएल के 31 मैचों के आयोजन करने वाले यूएई के तीन मैदानों को तरोताजा होने के लिए पर्याप्त टाइम मिल सकेगा.

उन्होंने आगे बोला कि, अगर आईपीएल 10 अक्टूबर तक खत्म होता है तो यूएई में टी20 विश्वकप के मुकाबलों को नवंबर में शुरू किया जा सकता है. इससे इंटरनेशनल टूर्नामेंट के लिए पिचों को तैयार करने के लिए तीन सप्ताह का टाइम मिलेगा. इस बीच, पहले हफ्ते के मैच ओमान में हो सकते हैं.

T20 World Cup : इन शहरों में होगा टी-20 वर्ल्ड कप, लखनऊ में भी होगा मैच

आईसीसी बोर्ड के अधिकांश मेंबर्स का मानना है कि भारत टाइम काटने की कोशिश कर रहा है क्योंकि अक्टूबर-नवंबर में परिस्थितियां कैसी होगी इसका अंदाजा लगाना मुश्किल है.

उन्होंने बोला कि, अगर आप व्यावहारिक रूप से इसके बारे में सोचते हैं तो भारत अब कोरोना के 1,20,000 से ज्यादा मामलों रोजाना आ रहे हैं जो कि अप्रैल के आखिरी और इस महीने की शुरुआत में आने वाले मामलों के मैच में एक तिहाई के करीब है.

आप 28 जून को टी-20 वर्ल्डकप के आयोजन के लिए कैसे हां बोल सकते है, अगर तीसरी लहर आती है तो आप अक्टूबर के बारे में अभी से स्वास्थ्य स्थिति के बारे में कैसे सोच सकते है.


Share This News