July 24, 2021

अमित पंघाल सहित समेत ये पांच मुक्केबाज प्री क्वार्टर फाइनल से करेंगे शुरुआत

फोटो सोशल मीडिया

फोटो सोशल मीडिया

Share This News

टोक्यो ओलंपिक के पहले दौर के लिए शीर्ष वरीय और वर्ल्ड में नंबर वन अमित पंघाल (52 किग्रा) बाइ मिलने वाले चार भारतीय मुक्केबाजों में हैं. ओलंपिक में मुक्केबाजी के ड्रॉ गुरुवार को जारी हुए. भारत के नौ मुक्केबाज इस बार ओलंपिक में अपनी चुनौती पेश करने वाले है. रियो ओलंपिक में कोई भी पदक जीतने में विफल भारतीय मुक्केबाजो से इस बार पदकों की उम्मीद है.

फोटो सोशल मीडिया

पंघाल 31 जुलाई को प्री क्वार्टर फाइनल में रिंग में उतरेंगे. उनका मैच बोत्सवाना के मोहम्मद रजब ओतुकिले और कोलंबिया के हर्नी रिवास मार्टिनेज के बीच मैच के विजेता से खेला जाएगा. महिला वर्ग में छह बार की विश्व विजेता एमसी मैरीकॉम (51 किग्रा) का मैच 25 जुलाई को डोमिनिका की मिगुलिना हर्नानडेज से खेला जाएगा.

अपने दूसरे ओलंपिक पदक पर निगाह गड़ाए मैरीकॉम कज अगले दौर में कोलंबिया की तीसरी वरीयता प्राप्त लोरेना विक्टोरिया वेलेंसिया से मैच हो सकता हैं. एशियाई खेलों के पूर्व कांस्य पदक विजेता सतीश कुमार (91 किग्रा से अधिक) को भी पहले दौर में बाइ मिली है. वो ओलंपिक में खेलने वाले भारत के पहले सुपर हैवीवेट मुक्केबाज हैं.

वो प्री क्वार्टर फाइनल में जमैका के रिकार्डो ब्राउन से मैच होगा और इसमें जीत पर उनकी टक्कर उज्बेकिस्तान के शीर्ष वरीय बखादिर जालोलोव से हो सकती है जो मौजूदा विश्व विजेता और तीन बार के एशियाई विजेता हैं.

ये भी पढ़े : खेल मंत्री अनुराग ठाकुर व अन्य सांसदों ने भारतीय एथलीटों के लिए नारे लगाए

आशीष चौधरी (75 किग्रा) पहले दौर में चीन के इरबीके तोहेता से आमना- सामना होगा. राष्ट्रमंडल खेलों के रजत पदक विजेता मनीष कौशिक (63 किग्रा) ब्रिटेन के यूरोपीय रजत पदक विजेता ल्यूक मैककोरमाक से मैच होगा. इसमें जीत पर अंतिम -16 में उन्हें क्यूबा के एंडी क्रूज की कड़ी चुनौती मिलेगी जो मौजूदा विश्व विजेता हैं.

एक अन्य भारतीय विकास कृष्ण (69 किग्रा) पहले दौर में जापान के मेनसाह ओकाजावा से आमना-सामना होगा इसमें जीत पर उनकी के तीसरी वरीयता रोनील इग्लेसियास (2012 के ओलंपिक गोल्ड मैडल विजेता और पूर्व वर्ल्ड विजेता) से टक्कर होगी.

महिला वर्ग में पूजा रानी (75 किग्रा) अपने पहले मैच में अल्जीरिया की इचराक चैब का सामना करेगी और आगे बढ़ने पर उनके सामने चीन की दूसरी वरीयता प्राप्त ली क्वीयान होगी जो कि 2018 की विश्व विजेता हैं.

लवलीना बोरगोहेन (69 किग्रा) को पहले दौर में बाइ मिली है और उन्हें अगले दौर में जर्मनी की नादिन अपेत्ज से आमना-सामना होगा. सिमरनजीत कौर (60 किग्रा) को भी बाइ मिली है. प्री क्वार्टर फाइनल में वो थाईलैंड की सदापोर्न सीसोनदी के खिलाफ रिंग में उतरेंगी.


Share This News