July 24, 2021

लावा की डिज़ाइन इन इंडिया कॉन्टेस्ट के विजेताओं की ये है कहानी

Share This News

अग्रणी भारतीय मोबाइल निर्माता ब्राण्ड लावा इंटरनेशनल लिमिटेड ने अपने डिज़ाइन ऑफ इंडिया (डीआईआई) कॉन्टेस्ट के विजेताओं की घोषणा की है.

इस कॉन्टेस्ट को ज़बरदस्त प्रतिक्रिया मिली, देश भर से 12000 से अधिक एंट्रीज़ प्राप्त हुईं। तीन चरणों-ंउचय आईडेशन, प्रोटोटाईप क्रिएशन और प्रेज़ेन्टेशन टू जूरी – में आयोजित इस प्रतियोगिता में तीन टीमों-इनजेनियम, इन्विन्सिबल और मैगमा को विजेता घोषित किया गया. विजेता टीमों को क्रमशः रु 50,000, रु 25,000 और रु 15,000 के नकद पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा.

विजेता टीमों के अलावा, कंपनी ने दो युवा इंजीनियरों- नाफिह अहमद और श्यामाला दसिका को भी प्लेसमेन्ट ऑफर के लिए चुना है, जिन्हें लावा की मेक इन इंडिया यात्रा में शामिल होने का मौका मिलेगा. प्रतियोगिता के माध्यम से चुने गए इन दो युवा इंजीनियरों को लावा इंडिया की डिज़ाइन टीम में शामिल होने तथा भारत की आत्मनिर्भर यात्रा में योगदान देने का अवसर मिलेगा.

मेटलाइफ फाउंडेशन ने कोरोना से जंग में दान किये 1.2 मिलियन यूएस डॉलर

कार्यक्रम के दौरान बात करते हुए संजीव अग्रवाल (चीफ़ मैनुफैक्चरिंग ऑफिसर, लावा इंटरनेशनल) ने कहा कि स्थानीय भारतीय प्रतिभा को आगे बढ़ने और अपनी प्रतिभा प्रदर्शित करने का अवसर देना इस प्रतियोगिता का मुख्य उद्देश्य था, ताकि वे भारत के भावी फोन डिज़ाइनर बन सकें। फोन डिज़ाइनिंग एक आला दर्जे का कौशल है जिसके लिए बहुत अधिक धन एवं समय निवेश करना पड़ता है.

अब तक, भारत में बेचे जाने वाले ज़्यादातर स्मार्टफोन्स को देश के बाहर डिज़ाइन किया जाता था.  हम भारत के अंदर फोन डिज़ाइनरों की नई पीढ़ी का निर्माण करना चाहते हैं.


Share This News