July 25, 2021

CMS की तीन शिक्षिकाओं ने अखिल भारतीय शिक्षण प्रतियोगिता में लहराया परचम

Share This News

लखनऊ। सिटी मान्टेसरी स्कूल की तीन शिक्षिकाओं ने अखिल भारतीय स्तर पर आयोजित सेन्टा टीचिंग कोशिएंट टेस्ट (सेन्टा टीक्यू) में अपनी शिक्षण प्रतिभा व प्रोफेशनल कौशल का परचम लहराकर लखनऊ का नाम रोशन किया है.

इन शिक्षिकाओं में सीएमएस राजाजीपुरम (प्रथम कैम्पस) की शिक्षिका सौम्या त्रिपाठी एवं राजेन्द्र नगर (द्वितीय कैम्पस) की शिक्षिका श्रीमती सोनाली चौधरी एवं श्रीमती शाजिया खान शामिल हैं. उक्त जानकारी सीएमएस के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी हरि ओम शर्मा ने दी. श्री शर्मा ने बताया कि प्रतियोगिता में सुश्री सौम्या त्रिपाठी ने जूनियर लेविल मैथ्स टीचिंग प्रतियोगिता सर्वोत्कृष्ट प्रदर्शन किया है.

इसके लिए उन्हें ‘सेन्टा वाल ऑफ फेम’ पर प्रदर्शित किया जायेगा. सीएमएस राजेन्द्र नगर (द्वितीय कैम्पस) की शिक्षिकाओं श्रीमती सोनाली चौधरी एवं श्रीमती शाजिया खान ने प्राइमरी स्तर की मैथ्स टीचिंग प्रतियोगिता में सर्वोत्कृष्ट प्रदर्शन किया है.

इस प्रतियोगिता के अन्तर्गत प्रतिभागी शिक्षकों को तीन मुख्य मानकों सब्जेक्ट एक्पर्टाइज, क्लासरूम कम्युनिकेशन एवं एलीमेन्ट्स ऑफ वर्बल कम्युनिकेशन पर आँका गया. श्री शर्मा ने बताया कि सेंटा टीचिंग टेस्ट अपने आप में देश भर के शिक्षकों के लिए शिक्षण उत्कृष्टता का प्रमाण है, जिसे पूरे देश में सराहा जाता है.

ये भी पढ़े : CMS Student फरीहा सलमान राष्ट्रीय प्रतियोगिता में लखनऊ टॉपर

यह प्रतियोगिता सेन्टर फॉर टीचर एक्रिडिटेशन (सेन्टा) के तत्वावधान में आयोजित हुई, जिसमें देश भर के लगभग 10,000 से अधिक विद्यालयों के शिक्षकों ने प्रतिभाग किया. श्री शर्मा ने बताया कि सेन्टा टीचिंग कोशिएंट टेस्ट का उद्देश्य शिक्षकों की शिक्षणेतर प्रतिभा एवं कौशल विकास को प्रोत्साहित एवं उत्प्रेरित करना है.

इस अनूठी प्रतियोगिता में विषयवार ज्ञान, अनुभव एवं उच्च शैक्षणिक मानकों के आधार पर शिक्षकों का चयन किया जाता है. इस प्रकार, शिक्षकों की क्षमताओं को पहचानकर एवं उनकी प्रतिभाओं का विकास कर शिक्षणेतर कार्यो में उनके प्रदर्शन में गुणात्मक परिवर्तन लाया जा सकता है.


Share This News