July 24, 2021

ऑनलाइन खेली जाएगी ट्रेडिशनल नेशनल वुशु चैंपियनशिप, 30 मई से शुरुआत

Share This News

नई दिल्ली : वुशु एसोसिएशन ऑफ इंडिया के तहत चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी एवम पंजाब वुशु एसोसिएशन के द्वारा ऑनलाइन ट्रेडिशनल नेशनल वुशु चैंपियनशिप 30 मई से आयोजन होगा. ये टूर्नामेंट इंटरनेशनल वुशु फेडरेशन के नियमों के तहत ऑनलाइन खेली जाएगी, जिसके लिए तकनीकी समिति का गठन होगा.

सब जूनियर, जूनियर एवम सीनियर वर्ग में खेला जा रहे ये टूर्नामेंट 30 मई से 4 जून तक खेला जाएगा. 30 को इस टूर्नामेंट का उद्घाटन होगा और 3 जून को खत्म होगा. 4 जून को सफल प्रतिभागियों के द्वारा वीडियो परफॉर्मेंस सबमिट किया जाएगा. इसके उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि भूपेंद्र सिंह बाजवा, प्रेसीडेंट वुशु एसोसिएशन ऑफ इंडिया होंगे

साथ ही चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के प्रो चांसलर आर एस बावा, पंजाब वुशु एसोसिएशन के प्रेसिडेंट ओलम्पियन सुरेंद्र सिंह सोढ़ी एवम अन्य गणमान्य अतिथिगण उपस्थित होंगे. टूर्नामेंट में चेन, यांग, वू एवम वून स्टाइल को शामिल होगा. साथ-साथ पारम्परिक विंग चुन कुंग फू एवम ट्रेडिशनल सिंगल, डबल एवम फ्लेक्सिबल वेपन की टूर्नामेंट भी इसमें होगी.

सुशील कुमार की इस याचिका पर सोचने से हाईकोर्ट ने किया मना

टूर्नामेंट में टॉप चार स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को इलेक्ट्रॉनिक सर्टिफिकेट मिलेगा. इस टूर्नामेंट के दौरान चयनित प्लेयर ऑनलाइन एशियाई ट्रेडिशनल वुशु चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे. ज्ञातव्य है कि कोरोना के मद्देनजर वुशु फेडरेशन ऑफ एशिया के द्वारा पहली बार ऑनलाइन टूर्नामेंट की मेजबानी हो रही है.

वुशु एसोसिएशन ऑफ इंडिया के तत्वाधान में खेले जा रहे इस टूर्नामेंट में भारत के विभिन्न इकाईयों के प्लेयर ऑनलाइन खेलने वाले है और अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे, जिसके लिए उन्हें तकनीकी समिति के द्वारा लिंक भेजा जाएगा. वर्तमान कोरोना काल में समस्त खेल गतिविधियों पर विराम लगा है

अतः इसके मद्देनजर वुशु एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने प्लेयर्स की दक्षता को बनाए रखने के उद्देश्य से वर्चुअल ट्रेडिशनल नेशनल वुशु स्पर्धा कराने की पहल की है, जिसमें सम्पूर्ण भारत से तकरीबन 400 प्लेयर खेल रहे है.

ट्रेडिशनल वुशु :

  • ट्रेडिशनल वूशु को सामान्यतः कुंगफू के नाम से जाना जाता है, फेमस मार्शल आर्टिस्ट ब्रुसली व जैकी चैन इसी विधा के प्लेयर हैं.
  • ट्रेडिशनल वूशु का प्रैक्टिस का मूल सिद्धांत आत्मरक्षा व युद्ध कला है जो कि नैतिक सिद्धांतो की विरासत से भी जुड़ा हुआ है और इसकी प्रैक्टिस जीवन के पारंपरिक, सामाजिक व सांस्कृतिक मूल्यों को आत्मसात कर स्वस्थ जीवन शैली जीने को प्रेरित करती है जो कि आधुनिक वूशु का मूल आधार है. इंटरनेशनल वुशु फेडरेशन ने ट्रेडिशनल वुशु खेल को मान्यता प्रदान की एवम 2004 से ही ट्रेडिशनल वर्ल्ड वुशु कुंगफू चैंपियनशिप की मेजबानी करना प्रारम्भ किया.
  • वुशु एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने ट्रेडिशनल वूशु ईवेंट को नेशनल वूशु चैंपियनशिप में सन 2017 से शामिल किया है

Share This News