July 23, 2021

टर्टलमिंट ने आयोजित किया भारत का सबसे बड़ा बीमा सलाहकार सम्‍मेलन – ‘TAG 2021’ 

Share This News

भारत के प्रमुख इंश्‍योर-टेक प्‍लेटफॉर्म, टर्टलमिंट ने वार्षिक महासम्‍मेलन – ‘TAG 2021’का आयोजन किया। इसका आयोजन उन भागीदारों की कड़ी मेहनत और जोश की प्रशंसा करने एवं उन्‍हें सम्‍मानित करने के लिए किया गया जिन्‍होंने ऐसे अपूर्व समय में टर्टलमिंट के सफर को शानदार रूप से सफल बनाने में अपना योगदान दिया है।

TAGएक ऐसा मंच है जिसने टर्टलमिंट के बीमा सलाहकारों और कर्मचारियों को पहचान दिलाने में मदद की है और साथ ही उन्हें उनके योगदान के माध्यम से आने वाले वर्षों में कंपनी को व्यवसाय में महान ऊंचाइयों को प्राप्त करने में मदद करने के लिए प्रोत्साहित किया है।

इंश्‍योरटेक प्‍लेटफॉर्म द्वारा आयोजित सम्‍मेलन में 50,000 से अधिक बीमा सलाहकार शामिल

अब तक के सबसे लोकप्रिय गायक कैलाश खेर और बॉलीवुड कॉमेडियन संकेत भोसलेने टैग के अंतर्गत अपने दमदार प्रदर्शन के साथ दर्शकों का मनोरंजन किया, जिससे यह सम्‍मेलन अधिक आनंदमय और मनोरंजक हो गया। 50,000 से अधिक दर्शकों की सफलता ने टर्टलमिंट के इस कार्यक्रम को बेहद सफल बनाया और TAGको शानदार प्रतिक्रिया मिली।

गायक कैलाश खेर और कॉमेडियन संकेत भोसले ने मनोरंजक प्रस्‍तुतियां दीं

बीमा सलाहकारों ने देश भर में अपने परिवारों के साथ इस आयोजन में भाग लिया। उन्होंने लाइव क्विज़, प्रतियोगिताओं के माध्यम से भी सक्रिय रूप से बातचीत की और वे एक लाइव विचार बोर्ड पर भी अपने विचार साझा कर सकते थे।  टर्टलमिंट के सह-संस्थापक धीरेन्‍द्र मह्यावंशी ने कहा कि मैं आप में से प्रत्येक को इस लगातार बढ़ते टर्टलमिंट परिवार का हिस्सा बनने के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं।

ये भी पढ़े : लीड का भारत का पहला मोबाइल-बेस्‍ड कोडिंग और कम्प्यूटेशनल स्किल्‍स प्रोग्राम लांच 

यह अविश्वसनीय यात्रा हमारे भागीदारों और कर्मचारियों के निरंतर समर्थन के बिना संभव नहीं होती। मुझे विश्वास है कि निकट भविष्य में हमारे बीमा सलाहकार प्रौद्योगिकी की शक्ति के साथ टर्टलमिंट को बड़ी सफलता देखने में मदद करेंगे। टर्टलमिंट के सह-संस्‍थापक आनंद प्रभुदेसाई ने कहा कि 50,000 से अधिकसलाहकारों नेहमारे मोबाइल ऐप के माध्यम से टैग 2021 में भाग लिया।

अपनी डिजिटल टेक्‍नोलॉजी के जरिए हमने बीमा खरीदने और इस्तेमाल करने के तरीके को बदल दिया है। और अब उसी टेक्‍नोलॉजी का इस्‍तेमाल करके,भारत के हर हिस्से के सलाहकारों ने एक-दूसरे से बातचीत की, सीखा और साथ मिलकर जश्‍न मनाया। इस तरह की बातचीत उद्योग का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है लेकिन कोविड के चलते यह (भौतिक रूप से) संभव नहीं हो सका।


Share This News