July 24, 2021

हिंदू संस्कृति को साम्प्रदायिकता के तराजू में तौलना दुर्भाग्यपूर्ण

Share This News

लखनऊ। प्रेस क्लब में आयोजित पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में  शिक्षाविद् अगम दयाल की लिखित पुस्तक ‘क्या हिन्दू होना साम्प्रदायिकता है’ का विमोचन करते हुये मुख्य अतिथि अखिल भारत हिन्दू महासभा, उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी ने कहा कि धर्मनिरपेक्ष भारत में जहां सभी धर्मों के प्रचार-प्रसार के लिये समान रूप से दर्जा दिया गया है.

पुस्तक “क्या हिन्दू होना साम्प्रदायिकता है“ का विमोचन

जब बात सनातन धर्म और हिन्दू संस्कृति की होती है, तो उसे साम्प्रदायिकता के तराजू में क्यों तौल दिया जाता है, जो कि बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. मुख्य अतिथि ऋषि त्रिवेदी ने साफ कहा कि यदि वसुधैव कुटुंबकम की परिकल्पना को साकार करना है तो हम सबको सनातन धर्म का पालन करते हुए हिन्दू संस्कृति का हिस्सा बनना ही पड़ेगा, उसके बाद हम कुछ और हो सकते हैं.

परंतु सनातन धर्म और हिन्दू संस्कृति का विरोध कर हम अपने परम पिता परमेश्वर की बनाई सृष्टि को नष्ट करने का प्रयास करते हैं. श्री त्रिवेदी ने कबीरदास का उदाहरण देते हुये कहा कि उन्होंने भी इस बात पर बल दिया था कि जात पात की करो विदाई और बिना किसी भेदभाव के एक दूसरे के साथ प्रेम भाव से रहा जाए.

हालांकि वर्तमान परिस्थितियों में जिस प्रकार से कुछ जिहादी मानसिकता के लोग कुछ खास मजहब का सहयोग प्राप्त कर पूरे विश्व में अशांति फैलाना चाहते हैं वह स्वीकार न होगा.

इस मौके पर शिक्षा एवं कॅरियर क्षेत्र की संस्था सोसायटी ऑफ कॅरियर टेक्नोलॉजी (सोक्ट) के चेयरमैन व जनविकास महासभा शिक्षा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष का दायित्व निभा रहे लेखक डा. अगम दयाल ने पुस्तक के बारे में बताया कि परमपिता परमेश्वर एक है और सबको ही समान रूप से सम्मान प्रदान किया जाना चाहिए.

ये भी पढ़े : कौशल प्रशिक्षण द्वारा सीएसआर शिक्षा से महिलाओं को मुख्यधारा में आने का मौका 

सर्वप्रथम हम सनातन संस्कृति से ही उत्पन्न हुए हैं, उसके बाद अपनी विचारधारा के अनुरूप हमने अपनी पूजा पद्धति को बदला परंतु इसका मतलब यह कदापि नहीं है कि कोई अपनी ही पूजा पद्धति को सही मानते हुए हम लोगों का विरोध शुरू कर दें और यदि ऐसा कोई भी मजहब करता है तो उसको समाज स्वीकार नहीं करेगा.

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि प्रबुद्ध सभा के प्रदेश अध्यक्ष दुर्गेश राय, युवक सभा के प्रदेश अध्यक्ष सोनू विराज सिंह, विधि सभा के प्रदेश अध्यक्ष शैलेंद्र कुमार श्रीवास्तव, चिकित्सा सभा के प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर सुनील शुक्ला, हिंदू महासभा लखनऊ के जिला अध्यक्ष नीरज शुक्ला महानगर अध्यक्ष मुकेश मणि मिश्रा सहित कई गणमान्य लोग मौजूद रहे.

कार्यक्रम का संचालन पंकज तिवारी द्वारा किया गया एवं इसका आयोजन सामाजिक संस्था सोसायटी आफ कैरियर टेक्नोलॉजी तथा जनविकास महासभा के सहयोग से हुआ.


Share This News