July 29, 2021

हिमा दास का ये पोस्ट क्यों करेगा भावुक, जानें वजह

Share This News

इस बार ओलंपिक में खेलने का भारत की महिला फर्राटा धाविका हिमा दास का सपना खत्म हो गया है. दरअसल, मांसपेशी की चोट की वजह से वो 2018 एशियाई खेलों के बाद तीन टूर्नामेंट ही खेल पाई. बीते दिनों वो 100 मीटर की हीट में हिस्सा लेते टाइम हैमस्ट्रिंग चोट का शिकार हुई थीं. इसके अलावा महिलाओं की 4×100 मीटर रिले टीम भी क्वालीफाई नहीं कर पाई, जिसका वो हिस्सा हैं.

हिमा ने 200 मीटर फाइनल के जरिए भी क्वालीफाई करने की कोशिश की लेकिन पांचवें पायदान पर रही थीं. हिमा ने ट्वीट में लिखा, चोट की वजह से मैं अपना पहला ओलंपिक मिस करूंगी.

मैं 100 और 200 मीटर में क्वालीफिकेशन हासिल करने के नजदीक थी. मैं अपने कोच और सपोर्ट स्टाफ को धन्यवाद देना चाहूंगी, जिन्होंने हमेशा मेरा सपोर्ट किया. मैं मजबूती के साथ वापसी करूंगी. मैं अब 2022 एशियाई खेलों, 2022 राष्ट्रमंडल खेलों और विश्व चैंपियनशिप 2022 की तैयारी पर ध्यान केंद्रित करूंगी.

ये भी पढ़े : हिमा दास चोटिल, ओलंपिक में खेलने पर संशय

बताते चले कि हिमा 2018 में फिनलैंड में विश्व जूनियर चैंपियनशिप में 400 मीटर का गोल्ड मैडल अपने नाम करके चर्चा में आई थीं. एशियाई खेल 2018 में 400 मीटर में व्यक्तिगत रजत पदक जीतने के अलावा वो गोल्ड मैडल जीतने वाली महिला चार गुणा 400 मीटर रिले और मिश्रित चार गुणा 400 मीटर रिले टीमों का भी हिस्सा थीं.


Share This News